कुत्ते के साथ क्रूरता का मामला आया सामने, 3 निर्दयी पुरुषों ने स्कूटी से कुत्ते को बांधा

यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि पशु क्रूरता के मामले हमारे देश में लगातार बढ़ते जा रहे हैं। हालांकि जानवरों के साथ क्रूरता और निर्दयता करने वाले आरोपियों को सजा देने का कोई भी सख्त कानून नहीं बना है। 


जानवरों के साथ दुर्व्यवहार करने वाली एक और घटना सामने आई है। यह मामला पुणे का है। तेज रफ्तार स्कूटी से एक कुत्ते को तीन लोगों ने बांध दिया और यह वीडियो फेसबुक पर वायरल हो रहा है। फेसबुक यूजर गौरव गुप्ता ने इस पोस्ट को शेयर करके जानकारी दी थी कि यह घटना 5 नवंबर की शाम पुणे के वाकड में हुई। उन्होंने कैप्‍शन में लिखा इस घटना की पूरी जानकारी दे दी है आप नीचे देख सकते हैं इसका वीडियो।


गौरव गुप्ता ने अपने कैप्‍शन में लिखा, 5 नवंबर की शाम, ये तीनों एक स्कूटी से एक जानवर को खींच रहे थे और इसका वह आनंद लेते हुए नजर आ रहे थे। जब हमने उन्हें रोकने की कोशिश की तो उन्होंने बहाने बनाने शुरु कर दिए कि कुत्ते काट लेगा, वह पागल हो गया है इतना ही नहीं उन्होंने हमने वीडियो बनाने पर भी धमकी दी थी। हालांकि हिना नाम की एक महिला की मदद से हमने कुत्ते को बचा लिया। कुत्ता कांप रहा था और उसके पैरों में सूजन आ गई थी। 


गौरव गुप्ता ने आगे अपनी पोस्ट में लिखा, लेकिन सवाल यह है कि कोई जानवर के साथ ऐसा कैसे कर सकता है? क्या ये लोग मानसिक रूप से मंद हैं? क्या उन्हें जानवरों के प्रति कोई सहानुभूति नहीं है? अगर कोई उन्हें एक किलोमीटर भी घसीटता है तो उन्हें कैसा लगेगा। यह घटना वाकड में हुई। किसी ने उन्हें रोकने की कोशिश नहीं की। क्या हम सबने अपना होश खो दिया है?


मैं आप लोगों से इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करने का अनुरोध करता हूं ताकि अधिकतम लोगों को इस जघन्य कृत्य के बारे में पता चले। जब हम जानवरों को चोट पहुंचाने के ऐसे कामों के बारे में सुनते हैं तो निराशा महसूस करना आसान होता है। लेकिन आगे आने और उन लोगों की मदद करने के लिए थोड़ा साहस चाहिए जो विशेष रूप से जानवर की जरूरत है जो मदद या दया नहीं मांग सकते। 


इस वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि तीन पुरुष है जिनमें से किसी ने भी हेलमेट नहीं पहना है साथ ही उन्होंने एक प्यारे से कुत्ते को अपनी स्कूटी से बांध रखा है और स्कूटी केे तेज गति में चला रहे हैं। कुत्ते को डर लग रहा है तभी तो वह वाहन की गति से साथ तेज दौड़ने के अलावा कुछ नहीं कर सकता। अन्यथा अगर वह घसीटेगा तो वह घायल हो जाएगा। 

बता दें कि फेसबुक यूजर गौरव गुप्ता ने आरोपियों के वाहन का नंबर भी शेयर किया। जिन्होंने कुत्ते के साथ ही जघन्य अपराध नहीं किया बल्कि यातायात नियमों का भी उल्लंघन किया। अब यह समय आ चुका है जब ऐसे अपराधों को गंभीरता से लिया जाए और दंडित किया जाए। हर किसी का जीवन बहुत मायने होता है। 
Tags : Chhattisgarh,Punjab Kesari,जगदलपुर,Jagdalpur,Sanctuaries,Indravati National Park ,country