जमात में शामिल हुए व्यक्ति में कोरोना पॉजिटिव, जानकारी छुपाने के आरोप में दर्ज हुआ मामला

05:52 PM Apr 10, 2020 | Pinki Nayak
देश में कोरोना वायरस के मामलों में हुई बढ़ोत्तरी के लिए तबलीगी जमात को दोषी माना जा रहा है। ऐसे में प्रशासन जमात में शामिल हुए हर व्यक्ति से अपनी जानकारी खुद देने को कह रहा है। वहीं जानकारी छुपाने वाले जमातियों के खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जा रहा है। बावजूद उसके बाहरी दिल्ली के नजफगढ़ इलाके में जानकारी छुपाने के आरोप में कोरोना संक्रमित एक व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। 
व्यक्ति के गांव नजफगढ़ के दीनपुर को संक्रमित क्षेत्र घोषित किया गया है। जमात से जुड़े कोरोना के कई मामले सामने आने के बाद जिला पुलिस ने जमात में हिस्सा लेने वालों का पता लगाना शुरू किया। इसके बाद पता चला कि क्षेत्र के पांच लोगों ने जमात में हिस्सा लिया था जिसके बाद आरोपी व्यक्ति समेत कई लोगों को घर में पृथक रहने को कहा गया। 
शुरुआत में पुलिस ने व्यक्ति से जमात में हिस्सा लेने की जानकारी मांगी तो उसने इससे इनकार किया। इसके बाद अधिकारियों द्वारा क्षेत्र में घरों की जांच में व्यक्ति अपने घर में नहीं पाया गया। इसके बाद पूछताछ में भी उसने सही जानकारी नहीं दी। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि लगातार स्वास्थ्य और पुलिस अधिकारी के पूछताछ में भी उसने इस बात से इनकार किया। 
उन्होंने कहा कि बाद में वह व्यक्ति बीमार पड़ गया और जांच में उसके संक्रमित होने की पुष्टि हुई। व्यक्ति की पत्नी और उसका बच्चा भी संक्रमित पाया गया। इसके बाद तीनों को अस्पताल में भर्ती किया गया। अधिकारी ने बताया कि व्यक्ति के कॉल रिकॉर्ड और जांच के बाद पता चला कि वह निजामुद्दीन के जमात कार्यक्रम में गया था। व्यक्ति ने अपने परिवार के सदस्यों और स्थानीय लोगों के स्वास्थ्य को खतरे में डाल दिया। 
इसके बाद दीनपुर गांव को संक्रमित क्षेत्र घोषित किया गया और उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू की गई। गौरतलब है कि देश में अब तक जानकारी छुपाने के मामले में कई लोगों पर मामले दर्ज किए जा चुके है। उसके बाद भी इस तरह के मामलों में कोई कमी नहीं आ रही है।

Related Stories: