+

उन्नाव रेप मामले में CBI ने तत्कालीन DM और 2 IPS को माना दोषी, कार्रवाई की सिफारिश

आईएएस अफसर अदिति सिंह 24 जनवरी 2017 से 26 अक्टूबर 2017 तक उन्नाव में तैनात थीं और इसी दौरान रेप पीड़िता ने कई बार शिकायत की, लेकिन उस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया।
उन्नाव रेप मामले में CBI ने तत्कालीन DM और 2 IPS को माना दोषी, कार्रवाई की सिफारिश
उन्नाव के बहुचर्चित रेप केस में जांच कर रही केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने जिले के तत्कालीन तीन महिला अफसरों को दोषी माना है। सीबीआई तत्कालीन डीएम अदिति सिंह समेत आईपीएस नेहा पांडेय व पुष्पांजलि सिंह और एक पीपीएस अष्टभुजा सिंह के खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश की है। 
दरअसल, 2009 बैच की आईएएस अफसर अदिति सिंह 24 जनवरी 2017 से 26 अक्टूबर 2017 तक उन्नाव में तैनात थीं और इसी दौरान रेप पीड़िता ने कई बार शिकायत की, लेकिन उस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया। अदिति इस वक्त हापुड़ की डीएम हैं।
वहीं, 2006 बैच की आईपीएस अधिकारी पुष्पांजलि सिंह भी उन्नाव की एसपी थीं। पुष्पांजलि पर इस मामले को दबाने का आरोप है। पुष्पांजलि वर्तमान में एसपी रेलवे गोरखपुर हैं। नेहा पांडे केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर आईबी में हैं। अष्टभुजा सिंह पीएससी फतेहपुर में कमांडेंट हैं। 
इन सभी अफसरों पर इस मामले में लापरवाही का आरोप है। मामले के आरोपी पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को उम्रकैद की सज़ा सुनाई जा चुकी है। साथ ही पीड़िता के पिता की हत्या में दस साल की सजा कुलदीप को सुनाई गई है।
facebook twitter