+

ताजमहल में शादी की 40वीं सालगिरह का जश्न, इटली के दंपति ने हिंदू रीति-रिवाज के साथ लिए 7 फेरे

आगरा में इटली के दंपती ने अपनी शादी की 40वीं वर्षगांठ पर हिंदू रीति-रिवाज से दोबारा विवाह रचाया। 70 साल के माउरो भारतीय संस्कृति से प्रभावित हैं। वह अपनी पत्नी स्टैनफानिया के साथ शादी की 40वीं वर्षगांठ पर भारत घूमने आए थे।
ताजमहल में शादी की 40वीं सालगिरह का जश्न, इटली के दंपति ने हिंदू रीति-रिवाज के साथ लिए 7 फेरे
भारतीय संस्कृति को यूं ही दुनियाभर में पसंद नहीं किया जाता, उसकी भव्यता और आस्था लोगों के बीच अपने आप में महान है। इसका हालिया उदाहरण है कि इटली के दंपति ने अपनी शादी के 40 साल पूरे होने खुशी का जश्न मनाने के लिए भारत में प्रेम की निशानी ताजमहल को चुना। दंपति न सिर्फ 40वीं सालगिरह का जश्न मनाया। हिंदू रीति-रिवाजों के साथ शादी करते हुए विदेशी दंपति ने सात फेरे भी लिए।
भारतीय संस्कृति से प्रभावित हैं 70 वर्षीय माउरो 
आगरा में इटली के दंपती ने अपनी शादी की 40वीं वर्षगांठ पर हिंदू रीति-रिवाज से दोबारा विवाह रचाया। 70 साल के माउरो भारतीय संस्कृति से प्रभावित हैं। वह अपनी पत्नी स्टैनफानिया के साथ शादी की 40वीं वर्षगांठ पर भारत घूमने आए थे। उन्होंने आगरा के ट्रेवल्स और इवेंट ऑपरेटर एमटीए ग्रुप के मनीष शर्मा से संपर्क कर शादी की सालगिरह को भारतीय परंपरा के साथ मनाने की इच्छा जताई। यहां आकर वह भारतीय संस्कृति से इतने प्रभावित हुए कि विदेशी दंपती ने शादी की वर्षगांठ पर हिंदू रीति-रिवाज से विवाह करने का निर्णय कर लिया। 
मनीष शर्मा ने ताजमहल के निकट एक रिजार्ट में विदेशी दंपती के विवाह की व्यवस्था कराई। विदेशी दंपती ने सबसे पहले भारतीय दूल्हा-दुल्हन के पारंपरिक वेशभूषा में ताजमहल का दीदार किया। इसके बाद रिजॉर्ट में बैंड-बाजे के साथ बरात निकाली। विदेशी दंपती की अनोखी शादी में शहर के कई लोग बराती बने। 
पंडित प्रवीन दत्त शर्मा ने दोनों का विवाह कराया। इटालियन दंपती इस आयोजन से बहुत खूब हुए और सभी का धन्यवाद किया। प्रेम के प्रतीक के तौर पर दुनियाभर में मशहूर ताजमहल के पास रिजॉर्ट में विदेशी दंपती ने सात फेरे लिए और अपनी शादी की वर्षगांठ को यादगार बनाया। 

facebook twitter instagram