+

महामारी के कठिन समय में केन्द्र ने प्रदेश को 50 टन प्रतिदिन अतिरिक्त ऑक्सीजन उपलब्ध कराई : CM शिवराज

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोविड-19 के कठिन समय में केन्द्र सरकार मध्य प्रदेश को 50 टन प्रतिदिन अतिरिक्त ऑक्सीजन उपलब्ध कराने पर सहमत हो गई और यह शनिवार से मिलना भी शुरू हो गया है।
महामारी के कठिन समय में केन्द्र ने प्रदेश को 50 टन प्रतिदिन अतिरिक्त ऑक्सीजन उपलब्ध कराई : CM शिवराज
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोविड-19 के कठिन समय में केन्द्र सरकार मध्य प्रदेश को 50 टन प्रतिदिन अतिरिक्त ऑक्सीजन उपलब्ध कराने पर सहमत हो गई और यह शनिवार से मिलना भी शुरू हो गया है।

चौहान ने शनिवार रात ट्वीट किया, ‘‘आज मेरे अनुरोध पर भारत सरकार ने मध्य प्रदेश को 50 टन प्रतिदिन ऑक्सीजन की आपूर्ति की है, जिससे हमारी ऑक्सीजन की उपलब्धता बढ़कर अब कुल 180 टन प्रतिदिन हो गई है।’’

मध्य प्रदेश में वर्तमान आवश्यकता 110 टन की है। अतिरिक्त 50 टन ऑक्सीजन के पूर्व 130 टन ऑक्सीजन की आपूर्ति मध्य प्रदेश को हो रही थी। उन्होंने कोविड-19 के इस कठिन समय में अतिरिक्त ऑक्सीजन आपूर्ति कर मध्य प्रदेश का सहयोग करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा रेल एवं वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल को धन्यवाद दिया है। चौहान ने कहा कि प्रदेश में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन उपलब्ध है।

किसी को भी चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। राज्य शासन द्वारा आवश्यक व्यवस्थाएँ कर ली गई है। भारत सरकार द्वारा उपलब्ध कराई गई अतिरिक्त ऑक्सीजन से प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी होने की कोई संभावना नहीं है।

मालूम हो कि मध्य प्रदेश के अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान ने केन्द्रीय मंत्रालय को मध्य प्रदेश में ऑक्सीजन की आवश्यकता से अवगत कराया था। इसके बाद मुख्यमंत्री ने बृहस्पतिवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से बात की थी और कोविड-19 के गंभीर मरीजों के उपचार के लिये ऑक्सीजन की महाराष्ट्र से आपूर्ति पर रोक नहीं लगाने का आग्रह किया था।
facebook twitter