संविधान के दायरे में हुर्रियत नेताओं से बात करेगी केंद्र सरकार : भाजपा

केंद्र सरकार अलगाववादी हुर्रियत नेताओं से भारतीय संविधान के दायरे में बातचीत करने के लिए तैयार है। यह बात सोमवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक वरिष्ठ नेता ने कही। भाजपा के जम्मू एवं कश्मीर प्रभारी अविनाश राय खन्ना ने कहा, "हम बातचीत के लिए तैयार हैं। हुर्रियत नेता हमारे अपने लोग हैं। वे जम्मू एवं कश्मीर के निवासी हैं, इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत हमसे बातचीत के लिए उनका स्वागत है, लेकिन बातचीत भारत के संविधान के दायरे में हो।" 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री प्रदेश में शांति का वातावरण बनाने की कोशिश कर रहे है जिससे लोगों का भरोसा जीता जा सके। खन्ना का यह बयान आने के एक दिन पहले अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारूक ने अपनी बात दोहराते हुए कहा कि हुर्रियत नेतृत्व जम्मू एवं कश्मीर विवाद का समाधान तलाशने के मकसद से सार्थक बातचीत में शामिल होने के लिए हमेशा तैयार है। 

Download our app