+

चिराग का CM नीतीश पर वार- शराबबंदी के नाम पर बिहारीयों को बनाया जा रहा है तस्कर

चिराग ने ट्वीट कर कहा कि "शराबबंदी के नाम पर बिहारीयों को तस्कर बनाया जा रहा है। बिहार कि माताएं बहने अपनो को तस्कर बनते नहीं देखना चाहती।"
चिराग का CM नीतीश पर वार- शराबबंदी के नाम पर बिहारीयों को बनाया जा रहा है तस्कर
बिहार चुनाव की तारीख नजदीक आ रही है, वहीं पार्टियों का एक दुसरे के खिलाफ बयानबाजी भी लगातार जारी है। इस बीच लोकजनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने शनिवार को बिहार में शराबबंदी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है।
उन्होंने ट्वीट कर कहा कि "शराबबंदी के नाम पर बिहारीयों को तस्कर बनाया जा रहा है। बिहार कि माताएं बहने अपनो को तस्कर बनते नहीं देखना चाहती। बिहार के मुख्यमंत्री के संग सभी मंत्रियों को पता है की बिहारी रोजगार के अभाव में शराब तस्करी के तरफ बढ़ रहा है लेकिन सब के सब को मानो सांप सूंघ लिया है।"
वहीं शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा एक चुनावी रैली के दौरान उनके दिवंगत पिता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए उन्हें धन्यवाद दिया। चिराग ने ट्वीट कर कहा, ''आदरणीय नरेंद्र मोदी जी बिहार आते हैं और पापा को एक सच्चे साथी के जैसे श्रद्धांजलि देते हैं। यह कहना की पापा की आखरी सांस तक वे साथ थे मुझे भावुक कर गया। एक बेटे के तौर पर स्वाभाविक है पापा के प्रति प्रधानमंत्री जी का यह स्नेह व सम्मान देख कर अच्छा लगा। प्रधानमंत्री जी का धन्यवाद।’’
बिहार में सत्ताधारी राजग में शामिल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू से नाता तोड़कर अपने बलबूते चुनाव लड़ रहे लोजपा प्रमुख चिराग ने इससे पूर्व नीतीश पर कटाक्ष करते हुए कहा, ‘‘आदरणीय प्रधानमंत्री जी का बेसब्री से इंतजार कर रहे आदरणीय नीतीश कुमार जी का इंतजार आज खत्म हो जाएगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘आदरणीय अमित शाह जी के भी कह देने के बाद कि लोजपा बिहार चुनाव में राजग का हिस्सा नहीं है, नीतीश जी को तसल्ली नहीं हुई। अभी और प्रमाणपत्र चाहिए। आदरणीय नरेंद्र मोदी जी का स्वागत है।'' 
चिराग ने इससे पहले कहा था कि प्रधानमंत्री गठबंधन धर्म निभा रहे हैं। उन्होंने कहा था कि अपने पिछले पांच साल के शासनकाल के दौरान नीतीश ने क्या किया यह बात भी उन्हें बताना चाहिए। चिराग ने आरोप लगाया कि नीतीश की खुद की कोई उपलब्धि नहीं होने के कारण वह अपने राजनीतिक गुरु लालू प्रसाद यादव (प्रदेश की मुख्य विपक्षी पार्टी राजद के प्रमुख) के नाम का डर दिखा कर वोट लेना चाहते हैं।
चिराग, नीतीश के सात निश्चय कार्यक्रम को प्रदेश की पिछली महागठबंधन (जदयू-राजद-कांग्रेस) सरकार की योजना बताते इसमें भ्रष्टाचार होने का आरोप लगा चुके हैं। लोजपा प्रमुख ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए आरोप लगाया कि नीतीश जी तो पहले महागठबंधन का नेतृत्व कर रहे थे और रातों-रात पिछले दरवाजे से राजग में आ जाने के बाद अब अपने को ही राजग में सबसे पुराने सहयोगी बताते फिर रहे हैं, जो कि गलत है।

RJD ने 'प्रण हमारा संकल्प बदलाव का' के वादे के साथ जारी किया घोषणा पत्र, तेजस्वी ने नीतीश पर साधा निशाना

facebook twitter instagram