+

सीएम कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने पीडि़तों के परिवारों के साथ संवेदनाएं प्रकट करने पहुंचे वारिसों को 5 लाख व नौकरी देने का दिया आश्वासन

पंजाब के 3 सरहदी जिले जिनमें तरनतारन, अमृतसर, गुरदासपुर के अलग-अलग गांवों से संबंधित 130 के करीब व्यक्तियों की पिछले दिनों जहरीली शराब से हुई मौतों के बाद पीडि़त परिवारों को दी जा रही
सीएम कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने पीडि़तों के परिवारों के साथ संवेदनाएं प्रकट करने पहुंचे वारिसों को 5 लाख व नौकरी देने का दिया आश्वासन
लुधियाना-तरनतारन : पंजाब के 3 सरहदी जिले जिनमें तरनतारन, अमृतसर, गुरदासपुर के अलग-अलग गांवों से संबंधित 130 के करीब व्यक्तियों की पिछले दिनों जहरीली शराब से हुई मौतों के बाद पीडि़त परिवारों को दी जा रही सरकारी सहायता राशि को 2 लाख से बढ़ाकर 5 लाख कर दिया गया। इसी के साथ ही अपने आंखों की रोशनी गंवा चुके पीडि़तों की सहायता हेतु 5 लाख रूपए अतिरिक्त देने की घोषणा की गई। इसी के साथ ही पीडि़त परिवार के प्रत्येक नजदीकी व्यक्ति को नौकरी देने का ऐलान भी हुआ। दूसरी ओर, राज्य के तीन जिलो में जहरीली शराब पीने से मौतों की मजिस्ट्रेट जांच शुरू हो गई है़।
मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह शुक्रवार को जहरीली शराब पीकर जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों से मिले। सभी पीडि़त परिवारों को बीमा योजना का लाभ भी दिया जाएगा। उनके कच्चे घरों को पक्का किया जाएगा। दिव्यांगों को ट्राई साइकिल दी जाएगी। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि उन्हें परिवारों से पूरी हमदर्दी है। सरकार आरोपितों को सजा दिलाएगी। इस दौरान उनके साथ पंजाब कांग्रेस के प्रधान सुनील जाखड़, लोक सभा हलका खड़ूर साहिब से सांसद जसवीर सिंह डिंपा, वेयर हाउस के चेयरमैन राज कुमार वेरका, विधायक हरमिंदर सिंह भी मौजूद थे। 
जहरीली शराब से हुईं मौतों के मामले में जालंधर डिवीजन के कमिश्नर राज कमल चौधरी ने मजिस्ट्रेट जांच शुरू कर दी। वह अपनी रिपोर्ट 21 दिन के भीतर तैयार कर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को देंगे। राज कमल चौधरी ने अमृतसर के बचत भवन में अमृतसर के डिप्टी कमिश्नर गुरप्रीत सिंह खैहरा, अमृतसर देहाती के एसडीएम सुमित मुद, एसपी गौरव तूड़ा, बटाला के एसडीएम बलविंदर सिंह, एसपी तेजबीर सिंह हुंदल और तरनतारन के एसडीएम रजनीश अरोड़ा और एक्साइज विभाग के अफसर एचएस बावा के साथ दो घंटे तक बैठक की।

- सुनीलराय कामरेड
facebook twitter