CM फड़णवीस ने पाक संबंधी बयान को लेकर शरद पवार पर साधा निशाना, कहा- वोट बैंक की राजनीति

पाकिस्तानी लोगों के संबंध में राकांपा नेता शरद पवार के बयान को लेकर चुनावी प्रदेश महाराष्ट्र में सरगर्मियों तेज हो गयी हैं और मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने इसे वोट बैंक की राजनीति बताया। फड़णवीस ने यह भी कहा कि बड़े नेताओं को यह बात ध्यान में रखनी चाहिए कि क्या उनके बयान से भारत को फायदा हो रहा है या पाकिस्तान का। 

उन्होंने कहा कि भारत पर निशाना साधने के लिए पाकिस्तान ने जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त किए जाने पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी की टिप्पणी का इस्तेमाल किया था। इस बीच, पार्टी के वरिष्ठ नेता पर हो रहे हमले के बाद राकांपा ने मुख्यमंत्री पर आरोप लगाया कि वह पवार के बयान को अपने मकसद से तोड़ मरोड़ रहे हैं। 

नितिन गडकरी बोले- सिर्फ आरक्षण से किसी समुदाय का विकास सुनिश्चित नहीं हो सकता

पूर्व केंद्रीय मंत्री पवार ने शनिवार को मुंबई में राकांपा कार्यालय में अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्यों की एक बैठक को संबोधित करते हुए कहा था कि वह कई बार पाकिस्तान गए और उनका हमेशा गर्मजोशी से स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री ने महाजनादेश यात्रा के अंतिम चरण में सोमवार को सतारा जिले के कराड में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि पवार एक बड़े नेता हैं और बड़े नेताओं को यह समझना चाहिए कि उनके बयानों से भारत को फायदा होगा या पाकिस्तान को। जब राहुल गांधी कश्मीर गए थे तो उन्होंने इसी तरह के बयान दिए थे।

गांधी के बयान को आधार बनाते हुए पाकिस्तान ने अगले दिन संयुक्त राष्ट्र में कहा था कि गांधी के विचार उनके (पाकिस्तान) समान हैं।’’ पवार के बयानों का राजनीतिक मकसद बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव आते जाते रहेंगे लेकिन वोटों की खातिर ऐसे बयान देना ठीक नहीं है। राज्य में अगले महीने विधानसभा चुनाव होने हैं। 

योगी सरकार को इलाहाबाद HC से झटका, 17 OBC जातियों को SC में शामिल करने पर रोक

उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा लगता है कि पवार साहब इस बात से अवगत नहीं हैं कि भारतीय मुसलमानों को भारत पर बहुत गर्व है। अगर पवार को लगता है कि अगर वह इस तरह के बयान देते हैं तो मुसलमान उन्हें (राकांपा को) वोट देंगे, तो वह विचार ही मुसलमानों के साथ अन्याय हैं।’’ 

फड़णवीस ने कहा कि पवार का बयान राकांपा की ‘मानसिकता’ को दर्शाता है। फड़णवीस पर निशाना साधते हुए, राकांपा प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि उन्होंने पवार के बयान के अर्थ को नहीं समझा। मलिक ने स्पष्ट किया कि पवार ने केवल अपने अनुभव को साझा किया था जब वह अतीत में बीसीसीआई अध्यक्ष के रूप में पाकिस्तान गए थे। 
Tags : Badrinath,चारधाम यात्रा,बद्रीनाथ,हिमपात,Snow,भीषण ठंड,Kedarnath Dham,केदारनाथ धाम,Chardham Yatra,Gruzing cold ,Sharad Pawar,CM Fadnavis,Pak,election state,Enthusiasts,Maharashtra,NCP