+

CM गहलोत ने कोरोना महामारी को लेकर दिए सख्त निर्देश, 'राजस्थान में लग सकता है दिन का कर्फ्यू'

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जयपुर-जोधपुर की कोविड समीक्षा बैठक में बढ़ते आंकड़ों पर चिंता जाहिर की।
CM गहलोत ने कोरोना महामारी को लेकर दिए सख्त निर्देश, 'राजस्थान में लग सकता है दिन का कर्फ्यू'
राजस्थान में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे है। इन बढ़ते मामलों के बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जयपुर-जोधपुर की कोविड समीक्षा बैठक में बढ़ते आंकड़ों पर चिंता जाहिर की। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोरोना की चेन तोड़ना बेहद जरूरी है। यदि जनता नहीं मानती है तो दिन में भी कर्फ्यू लगाया जाएगा। ऐसे में यदि लोग मास्क नहीं पहनेंगे, सोशल डिस्टेंस की पालना नहीं करेंगे तो दिन के कर्फ्यू का भी उन्हें सामना करना पड़ेगा। साथ ही सीएम ने हैल्थ प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने वालों से सख्ती से निपटने की बात कही।
इसके साथ ही सीएम गहलोत ने खांसी-जुकाम-बुखार के संदिग्ध लक्षणों वाले लोगों की अनिवार्य रूप से घर-घर जाकर स्क्रीनिंग करने के निर्देश दिए। होम आईसोलेशन में रह रहे रोगियों तथा उनके संपर्क में आए परिजनों को क्वारेंटीन नियमों का पालन करने के लिए जिला कलेक्टर को आदेश जारी कर पाबंद करने की बात भी वीसी के दौरान सीएम गेहलोत ने कही। संदिग्ध रोगियों और उनके परिजनों तथा पड़ोसियों का सहयोग लेकर होम आईसोलेशन के नियम की पालन के लिए लोगों को जागरूक किया जाए। 
इसके साथ ही सीएम गहलोत ने इस काम में इन्सीडेन्ट कमाण्डर, स्थानीय जनप्रतिनिधियों, एनजीओ तथा जागरूक नागरिकों की वार्ड कमेटियां बनाकर लोगोंको जगर्रूक करने में उनका सहयोग लेने को कहा। फिर भी यदि कोई उल्लंघन होता है तो महामारी अधिनियम तथा सम्बंधित प्रावधानों के तहत कठोर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। सीएम ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को कोरोना जांचों की संख्या बढ़ाने के भी निर्देश दिए। जांचें बढ़ने से एक बार तो पॉजिटिव मामलों की संख्या अधिक बढ़ सकती है, लेकिन इससे संक्रमण की चेन को तोड़ने में मदद मिलेगी। संक्रमित व्यक्तियों की पहचान के बाद उनका इलाज और उन्हें आइसोलेट कर ही संक्रमण को फैलने से रोका जा सकता है।
facebook twitter instagram