CM गहलोत ने राजस्थानी भाषा को संविधान की 8वीं अनुसूची में शामिल करने का किया अनुरोध

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर राजस्थानी भाषा को संविधान की 8वीं अनुसूची में शामिल करने और इसे संवैधानिक मान्यता देने का अनुरोध किया है। राजस्थान विधानसभा ने राजस्थानी भाषा को 8वीं अनुसूची में शामिल करने के लिये 2003 में एक संकल्प पारित किया था।

मुख्यमंत्री ने अपने पत्र में लिखा कि उनके पिछले कार्यकाल के दौरान राजस्थान विधानसभा द्वारा वर्ष 2003 में सर्वसम्मति से एक संकल्प पारित कर केन्द्र सरकार को भेजा गया था जिसमें राजस्थानी को संविधान की 8वीं अनुसूची में सम्मिलित करने का अनुरोध किया गया था। 

CM गहलोत ने नितिन गडकरी को लिखा पत्र, NH 25 को छह लेन बनाने का किया आग्रह


इसके बाद भी कई बार राजस्थानी भाषा को संवैधानिक मान्यता देने के लिए राज्य सरकार की ओर से अनुरोध किया जाता रहा है। मुख्यमंत्री ने पत्र के माध्यम से प्रधानमंत्री से आग्रह किया कि राजस्थान विधानसभा द्वारा वर्ष 2003 में भेजे गये संकल्प का सम्मान करते हुए राजस्थानी को संवैधानिक मान्यता देने के संबंध में यथोचित कदम उठाएं। 

Tags : भारतीय जनता पार्टी,Bharatiya Janata Party,गुजरात,Gujarat,उना कांड,विधायक प्रदीप परमार,Una Kand,MLA Pradeep Parmar ,CM Gehlot