+

देश के पहले 'प्लाज्मा बैंक' का CM केजरीवाल ने किया उद्घाटन, जाने कैसे डोनेट कर सकते हैं प्लाज्मा

देश के पहले 'प्लाज्मा बैंक' का CM केजरीवाल ने किया उद्घाटन, जाने कैसे डोनेट कर सकते हैं प्लाज्मा
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को देश पहले 'प्लाज्मा बैंक' का उद्घाटन किया। इसके साथ ही उन्होंने कोरोना से ठीक होने वाले ज्यादा से ज्यादा लोग प्लाज्मा डोनेट करने की अपील की। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने उम्मीद जतायी है कि प्लाज्मा थेरेपी के इलाज़ से कोविड-19 से मरने वालों की संख्या में कमी आएगी। 
उन्होंने कहा, यदि आप प्लाज्मा डोनेट करने के योग्य और इच्छुक हैं, तो आप हमें 1031 पर कॉल कर सकते हैं या आप हमें 8800007722 पर व्हाट्सएप कर सकते हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा, जिंदगी में जान बचाने के कम मौके मिलते हैं। प्लाज्मा देने से कोई कमजोरी नहीं आती है। 
आज से प्लाज्मा बैंक शुरू हो रहा है, यह तभी सफल होगा जब कोविड-19 मरीजों को प्लाज्मा देने के लिए लोग आगे आएंगे। उन्होंने बताया कि 18 से 50 वर्ष की आयु के लोग, जिनका वजन 50 किलोग्राम से कम नहीं है वे कोविड-19 मरीजों के लिए अपना प्लाज्मा दान कर सकते हैं।

दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 करोड़ 6 लाख के पार, अब तक 5 लाख से अधिक लोगों ने गंवाई जान

जो महिला जीवन में कभी भी प्रेग्नेंट हुई है वह प्लाज्मा डोनेट नहीं कर सकती। शुगर, हाइपरटेंशन और जिनका ब्लड प्रेशर 140 से ऊपर है वह प्लाज्मा डोनेट नहीं कर सकते। कैंसर से ठीक हुए रोगी प्लाज्मा डोनेट नहीं कर सकते। इसी तरह किडनी फेफड़े और हृदय रोगी भी प्लाज्मा डोनेट नहीं कर सकते।
केजरीवाल ने कहा, 'केवल इलाज कर रहे डॉक्टर के कहने पर संबंधित अस्पताल को प्लाज्मा दिया जाएगा। प्लाज्मा बैंक से व्यक्तिगत तौर पर प्लाज्मा नहीं मिलेगा।' मुख्यमंत्री और दिल्ली सरकार ने ऐसे सभी व्यक्तियों से सामने आकर रक्तदान की अपील की है जो कोरोना उपचार के उपरांत स्वस्थ हो चुके हैं।
दिल्ली सरकार ने यह प्लाज्मा बैंक आईएलबीएस अस्पताल में स्थापित करने का फैसला लिया है। मुख्यमंत्री ने कहा 'आईएलबीएस में कोरोना का उपचार नहीं होता इसलिए यहां से किसी को कोरोना संक्रमण होने का खतरा नहीं है। इसके साथ ही प्लाज्मा दान करने वाले व्यक्तियों को लाने और ले जाने के लिए टैक्सी का प्रबंध भी दिल्ली सरकार द्वारा किया जाएगा।' 
मुख्यमंत्री ने कोरोना संक्रमण के बाद स्वस्थ हो चुके व्यक्तियों से कहा 'जो व्यक्ति ठीक हो चुके हैं उनसे मेरी हाथ जोड़कर प्रार्थना है कि आप सब लोग सामने आकर प्लाज्मा डोनेट करें ताकि लोगों की जान बचाई जा सके। किसी की जान बचाने का अवसर बड़ी मुश्किल से मिलता है। आप लोगों के पास यह अवसर है इसलिए सामने आकर लोगों की जान बचाएं।' 


facebook twitter