+

ओवैसी के गढ़ में CM योगी का भव्य स्वागत, लोगों ने लगाए आया-आया शेर आया के नारे

बिहार विधानसभा में मिली जीत से उत्साहित भाजपा की नजरें अब तेलंगाना तथा पश्चिम बंगाल पर भी हैं। इसके लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मोर्चे पर हैं।
ओवैसी के गढ़ में CM योगी का भव्य स्वागत, लोगों ने लगाए आया-आया शेर आया के नारे
बिहार विधानसभा में मिली जीत से उत्साहित भाजपा की नजरें अब तेलंगाना तथा पश्चिम बंगाल पर भी हैं। इसके लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मोर्चे पर हैं। आदित्यनाथ के हैदराबाद में चुनाव प्रचार को एआईएमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी को सीधी चुनौती देने के रूप में देखा जा रहा है।
शनिवार को तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में निकाय चुनाव (ग्रेटर हैदराबाद म्युनिसिपिल कॉरपोरेशन) में मलकजगिरी इलाके में योगी ने भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशियों के पक्ष में सभा के साथ एक रोड शो किया। जिसमें भारी भीड़ उमड़ी।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रोड शो के दौरान 'आया आया शेर आया' , 'राम लक्ष्मण जानकी, जय बोलो हनुमान की', 'योगी-योगी' , जय श्री राम, भारत माता की जय और वंदे मातरम के गगनभेदी नारे लगे। योगी को देखने के लिए लोग इतने उत्साहित थे कि सड़कों, घरों की छतों और खिड़कियों पर जमा थे।
वहीं से हाथ हिलाकर उनका अभिवादन कर रहे थे। तेलंगाना के हैदराबाद में एआईएमआईएम के अध्यक्ष ओवैसी के गढ़ में मुख्यमंत्री योगी का जबरदस्त स्वागत हुआ। भाजपा के प्रत्याशियों के पक्ष में रोड शो किया। रोड शो के दौरान राष्ट्रवादी नारे गूंजते रहे और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर लोग घरों की छतों से फूलों की बारिश भी कर रहे थे।
भाजपा कार्यकर्ता पूरे जोश से लबरेज 'चेंज हैदराबाद' के पैंपलेट हाथों में लिए थे। इस दौरान जिधर भी नजर डालें, हर तरफ भगवा ही भगवा नजर आ रहा था। मुख्यमंत्री योगी ने रोड शो से पहले संविधान निर्माता बाबा साहेब भीम राव अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।
इसके बाद वह रोड शो के लिए बस पर सवार हुए। इस दौरान योगी ने विक्ट्री साइन बनाकर और हाथ जोड़कर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। ग्रेटर हैदराबाद म्युनिसिपिल कॉरपोरेशन का चुनाव भाजपा पहली बार लड़ रही है। यहां चुनाव भाजपा और टीआरएस के बीच माना जा रहा है।
ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम करीब 24 विधानसभा सीट में फैला है और इसका सालाना बजट करीब साढ़े पांच हजार करोड़ है। तेलंगाना की जीडीपी का बड़ा हिस्सा यहीं से आता है।
इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की चुनावों में मांग देश के अलग-अलग राज्यों से आती रही है। वह अभी तक केरल, कर्नाटक, त्रिपुरा, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, मणिपुर, मध्य प्रदेश के साथ बिहार और दिल्ली के विधानसभा चुनावों में भी भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार कर चुके हैं।
facebook twitter instagram