+

मुंगेर हिंसा को लेकर कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल फागू चौहान से की मुलाकात

कांग्रेस ने मुंगेर हिंसा में मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री को सीधे तौर पर जिम्मेदार ठहराते हुए मृतकों के परिजनों के लिए 50 लाख के मुआवजे की मांग की है।
मुंगेर हिंसा को लेकर कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल फागू चौहान से की मुलाकात
मुंगेर हिंसा मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार की बर्खास्ती की मांग करते हुए कांग्रेस ने शुक्रवार को राज्यपाल फागू चौहान से मुलाकात की। कांग्रेस ने हिंसा में मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री को सीधे तौर पर जिम्मेदार ठहराते हुए मृतकों के परिजनों के लिए 50 लाख के मुआवजे की मांग की है।
कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सुरजेवाला के नेतृत्व में राज्यपाल फागू चौहान से पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल राजभवन जाकर मिला और मुंगेर हिंसा के बारे में विस्तार से जानकारी दी। राज्यपाल से मुलाकात के बाद बाहर आने पर सुरजेवाला ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल को बताया कि 72 घंटे तक मुंगेर में हिंसा का नंगा नाच हुआ और नीतीश सरकार आंख मूंद कर सोई रही। 
उन्होंने कहा कि मां दुर्गा के निर्दोष भक्तों को घेरकर लाठियों से पीटा गया। ऐसा जानवरों के साथ भी नहीं किया जाता है। सुरजेवाला ने कहा कि मुंगेर में महिलाओं, बुजुर्गों और युवाओं को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा गया और उसके बाद पुलिस ने जानबूझकर निर्दोष लोगों पर गोलियां चलाई जिसमें आठ लोग घायल हुए हैं। 
पुलिस ने 17 साल के एक नौजवान अनुराग कुमार को सिर में गोली मारी, जिससे उसकी मौत हो गई। उन्होंने राज्यपाल को हकीकत से अवगत कराने के लिए स्थानीय समाचार पत्रों की कतरनों और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) की ईमेल को भी दिखाया, जिससे स्पष्ट है कि आठ लोगों को गोलियां पुलिस की इंसास राइफल से लगी है।
facebook twitter instagram