+

आप से एक कदम आगे बढ़ी कांग्रेस मुफ्त पानी के साथ पैसा भी देगी

सुभाष चोपड़ा ने घोषणा की है कि दिल्ली में कांग्रेस के सत्ता में आने पर दिल्ली वासियों को पानी बचाने के लिए प्रोत्साहित करने की नीयत से कैश-बैक योजना लागू की जाएगी।
आप से एक कदम आगे बढ़ी कांग्रेस मुफ्त पानी के साथ पैसा भी देगी
नई दिल्ली : दिल्ली में विधानसभा चुनाव का माहौल है, सभी पार्टियां चुनावी घोषणाओं में लगी हैं। जहां आम आदमी पार्टी अपनी मुफ्त मॉडल से चुनावी दौड़ में सबसे आगे हैं वहीं अब कांग्रेस भी उसी दौड़ में शामिल हो गई है। कांग्रेस आप पार्टी से एक कदम आगे बढ़ गई है। कांग्रेस मुफ्त पानी तो देगी ही, साथ ही पानी बचाने पर कैशबैक भी देगी। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा ने घोषणा की है कि दिल्ली में कांग्रेस के सत्ता में आने पर दिल्ली वासियों को पानी बचाने के लिए प्रोत्साहित करने की नीयत से कैश-बैक योजना लागू की जाएगी। 

इस योजना के तहत पानी बचाने वालों को 30 पैसे प्रति लीटर की दर से कैश बैक मिलेगा। चोपड़ा ने यह घोषणा गुरुवार को पार्टी कार्यालय में आयोजित एक पत्रकार वार्ता में की। चोपड़ा ने पानी सबका अधिकार- भविष्य का रखना खयाल... नारा देते हुए कहा कि पानी बचाओ- दिल्ली बचाओ अभियान शुरु करने की नीयत से कैश-बेक योजना लागू करेंगे। उन्होंने कहा कि दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने वोट के लालच में इस योजना को लागू किया था। हम इस योजना को जारी रखेंगे लेकिन हमें भविष्य में दिल्ली में होने वाले वाटर वार की भी चिंता है, इसलिए हमने यह प्रोत्साहन योजना शुरु की है। 

उन्होंने कहा कि 20,000 लीटर पानी में जितना पानी उपभोक्ता बचाएगा, उसे 30 पैसे की दर से सरकार पैसा वापस देगी जो उपभोक्ता के खाते में सीधा ट्रांसफर किया जाएगा। चोपड़ा ने आंकड़ों के हवाले से इस पर चिंता भी जताई कि दिल्ली में पिछले छह सालों में 70 फीसदी तक जमीन का पानी नीचे चला गया है। उन्होंने यह भी कहा कि आज दिल्ली में गंदे पानी की समस्या की वजह से लगभग 25 फीसदी पानी बर्बाद हो रहा है जिसके लिए दिल्ली सरकार सीधे तौर पर जिम्मेदार है। 

एक लीटर पानी को आरओ से शुद्ध करने पर तीन लीटर पानी बर्बाद हो जाता है। चोपड़ा ने कहा कि सेंटर ग्राउंड वाटर बोर्ड की रिपोर्ट में बाकायदा पानी बचाने के लिए विशेष योजना को लाए जाने को जरुरी बताया है। चोपड़ा ने कहा कि इस योजना से दिल्ली में 25 से 30 फीसदी पानी की बचत की जा सकेगी। दोनों ने आरोप लगाया कि आज दिल्ली में पानी माफिया केजरीवाल सरकार के संरक्षण में ही सक्रिय है। 

उन्होंने पानी के बचाने के अभियान में लगी एनजीओ से अपील की है कि खुले मन से राजनीति से ऊपर उठकर कांग्रेस की योजना का स्वागत करें। अलका ने कहा कि पुरानी दिल्ली में भी बड़े पैमाने पर जल माफिया सक्रिय है जो पानी बोतलों में भरकार बेचता है। उन्होंने आरोप लगाया कि जल बोर्ड की लापरवाही के कारण 40 फीसदी पानी रास्ते में ही बर्बाद हो जाता है।
Tags : ,Congress,AAP,Subhash Chopra,Delhi,Delhiites
facebook twitter