+

हिंसा और गोडसे की विचारधारा के समर्थक हमारी आवाज नहीं दबा पाएंगे : कांग्रेस

राजीव सातव ने दावा किया, यह है बीजेपी के कुशासन का असली चेहरा जिसमें विरोधियों को हिंसा और बल का प्रयोग करके डराने की मानसिकता का इस्तेमाल होता है।
हिंसा और गोडसे की विचारधारा के समर्थक हमारी आवाज नहीं दबा पाएंगे : कांग्रेस
कांग्रेस ने अहमदाबाद में एबीवीपी और एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प की घटना को लेकर बीजेपी पर तीखा हमला बोला और दावा किया कि ‘हिंसा और गोडसे की विचारधारा के समर्थक’ विरोध की आवाज नहीं दबा सकते। कांग्रेस के गुजरात प्रभारी राजीव सातव ने ट्वीट कर कहा, ‘‘बीजेपी के राज्य में एबीवीपी की खुलेआम गुंडागर्दी एवं अराजकता फिर से उजागर हो गई है और शांतिपूर्ण तरह से विरोध कर रहे एनएसयूआई कार्यकर्ताओं को बेरहमी से पीटा और पुलिस सिर्फ मूकदर्शक बनी हुई थी।
हिंसा और गोडसे की विचारधारा के समर्थक बीजेपी वाले हमारी आवाज़ नहीं दबा पाएंगे।’’ उन्होंने दावा किया, ‘‘यह है बीजेपी के कुशासन का असली चेहरा जिसमें विरोधियों को हिंसा और बल का प्रयोग करके डराने की मानसिकता का इस्तेमाल होता है। एनएसयूआई के कार्यकर्ता को बर्बरता से पीटकर घायल कर दिया गया और प्रशासन ने इसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। इस दमनकारी विचारधारा के खिलाफ हम लड़ते रहेंगे।’’ 
एनएसयूआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुंदन ने कहा, ‘‘पहले जामिया में हिंसा भड़काई, फिर जेएनयू में हमला हुआ। इसके खिलाफ प्रदर्शन करने पर एबीवीपी के गुंडों ने कल राजस्थान विश्वविद्यालय में एनएसयूआई कार्यकर्ताओं से मारपीट की। आज गुजरात में एनएसयूआई कार्यकर्ताओं पर पुलिस और मीडिया के सामने जानलेवा हमला। आप समझ सकते हैं कि देश में क्या स्थिति है?’’ उन्होंने कहा, ‘‘अमित शाह और बीजेपी के लोग सोचते हैं कि हम हिंसा से डर जाएंगे तो वह मुगालते में हैं। हम झुकने वाले नहीं हैं। हम युवाओं और छात्रों की आवाज उठाते रहेंगे।’’ 
facebook twitter