+

कांग्रेस विधायक राजगोपाल रेड्डी का इस्तीफा, भाजपा का थामेंगे दामन

तेलंगाना में कांग्रेस विधायक के. राजगोपाल रेड्डी ने सोमवार को विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। मुनुगोड़े सीट से विधायक रेड्डी ने विधानसभा अध्यक्ष पी. एस. रेड्डी को अपना इस्तीफा सौंपा, जिसे अध्यक्ष ने स्वीकार कर लिया। हाल में कांग्रेस छोड़ने वाले रेड्डी 21 अगस्त को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होंगे।
कांग्रेस विधायक राजगोपाल रेड्डी का इस्तीफा, भाजपा का थामेंगे दामन
तेलंगाना में कांग्रेस विधायक के. राजगोपाल रेड्डी ने सोमवार को विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। मुनुगोड़े सीट से विधायक रेड्डी ने विधानसभा अध्यक्ष पी. एस. रेड्डी को अपना इस्तीफा सौंपा, जिसे अध्यक्ष ने स्वीकार कर लिया। हाल में कांग्रेस छोड़ने वाले रेड्डी 21 अगस्त को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होंगे।
उपचुनाव का परिणाम एतिहासिक होगा - रेड्डी
भाजपा के सूत्रों ने यह जानकारी दी। रेड्डी ने इस्तीफा देने के बाद कहा, ''मुनुगोड़े सीट पर होने वाले उपचुनाव का परिणाम ऐतिहासिक होगा। परिणाम तेलंगाना में परिवर्तन लेकर आएगा।'' मुनुगोड़े सीट पर उपचुनाव होना तय है, क्योंकि विधानसभा चुनाव 2023 के अंत में होना है, जिसमें अभी एक वर्ष से अधिक समय है। कोई सीट रिक्त घोषित होने के छह महीने के भीतर उस सीट पर उपचुनाव कराया जाता है।
आपको बात दे की भाजपा दक्षिण के राज्यों में विस्तार करने के लिए दूसरों दलों से नेताओं को अपने पाले में कर रही हैं। अभी तक कर्नाटक को छोड़कर भाजपा किसी भी राज्य  में अपनी सरकार नहीं बना पाई, लेकिन अबकी बार भाजपा शीर्ष नेतृत्व तेलंगाना पर नजरे गड़ाए हुए हैं। पिछले दो बार उपचुनाव में भी भाजपा अपने उम्मीदवारों को जीताने में कामयाब रही हैं, इसी कारण भाजपा केसीआर की सत्ता विरोधी लहर के अपने पक्ष में करनी की जुगत में लगी हुई हैं। 
 

facebook twitter instagram