कांग्रेस को अगली पीढ़ी के करिश्माई नेता की जरूरत : अमरिंदर

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शनिवार को इस बात की वकालत की कि राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफे के बाद पार्टी की कमान किसी युवा नेता को सौंप देनी चाहिए। देश में बड़ी और बढ़ती युवा आबादी की ओर इशारा करते हुए, मुख्यमंत्री ने कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) से राहुल की जगह किसी करिश्माई अगली पीढ़ी के नेता की तलाश करने का आग्रह किया, जिसकी पूरे भारत में स्वीकार्यता हो और जमीनी स्तर पर अपनी मौजदूगी से लोगों को उत्साहित कर सके। 

मुख्यमंत्री ने कहा, "राहुल ने युवा नेतृत्व के पार्टी की बागडोर लेने और इसे और अधिक ऊंचाइयों पर पहुंचाने का मार्ग दिखाया था।" उन्होंने कहा कि भारत की सबसे बड़ी युवा आबादी के मामले में दुनिया में अग्रणी बनने के साथ स्वाभाविक है कि एक युवा नेता लोगों की इच्छाओं और आकांक्षाओं से अधिक प्रभावी ढंग से जुड़ सकेगा और उन्हें समझ सकेगा। सिंह ने एक बयान में कहा कि पार्टी नेतृत्व में किसी भी बदलाव से 65 प्रतिशत आबादी के 35 वर्ष की उम्र का होने के साथ भारत की सामाजिक वास्तविकता को प्रतिबिंबित करना चाहिए। 


उन्होंने कहा कि इस्तीफे पर अड़े रहने का राहुल का निर्णय पार्टी के लिए एक बड़ी निराशा और झटका है, जिससे केवल कोई युवा नेतृत्व ही उबार सकता है। उन्होंने कहा कि सिर्फ एक युवा नेता ही पार्टी को फिर से उभार सकता है। उन्होंने कहा कि पार्टी का नेतृत्व ऐसा होना चाहिए कि वह राष्ट्र की उभरती आकांक्षाओं के प्रति अपनी दूर²ष्टि का अहसास दिखाए।

 मुख्यमंत्री ने कहा, "एक युवा नेता, एक दूरदर्शी दृष्टिकोण के साथ, न केवल भारत की युवा आबादी के बड़े हिस्से के साथ अच्छे से जुड़ सकेगा, बल्कि पार्टी को नए सिरे से सोच के साथ विकसित करेगा, राष्ट्र को सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की प्रतिगामी और विभाजनकारी नीतियों से अलग करने की सख्त आवश्यकता है।" 

सिंह ने कहा कि पार्टी के अनुभवी दिग्गज नेताओं के मार्गदर्शन में, एक युवा नेता, एक दूरदर्शी ²ष्टिकोण और आधुनिक दृष्टिकोन के साथ, एक नए भारत के जन्म का मार्ग प्रशस्त करेगा..अधिक जीवंत, गतिशील और प्रगतिशील। उन्होंने कहा कि समय आ गया है जब वरिष्ठ नेता नए नेताओं के लिए रास्ता साफ करें, जिसके बिना कांग्रेस आज की चुनौतियों का प्रभावी ढंग से सामना नहीं कर सकती है। 

Download our app