+

‘स्पूतनिक वी’ के इमरजेंसी उपयोग को लेकर कांग्रेस का कटाक्ष: ‘अयोग्य’ सरकार ने कुछ सीख तो ली

कांग्रेस ने केंद्रीय औषधि प्राधिकरण की एक विशेषज्ञ समिति द्वारा रूस के कोविड रोधी टीके ‘स्पूतनिक वी’ के आपात उपयोग की मंजूरी की सिफारिश किए जाने को लेकर सोमवार को सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि इस ‘अयोग्य’ सरकार ने कुछ तो सीख ली।
‘स्पूतनिक वी’ के इमरजेंसी उपयोग को लेकर कांग्रेस का कटाक्ष: ‘अयोग्य’ सरकार ने कुछ सीख तो ली
कांग्रेस ने केंद्रीय औषधि प्राधिकरण की एक विशेषज्ञ समिति द्वारा रूस के कोविड रोधी टीके ‘स्पूतनिक वी’ के आपात उपयोग की मंजूरी की सिफारिश किए जाने को लेकर सोमवार को सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि इस ‘अयोग्य’ सरकार ने कुछ तो सीख ली। 
दरअसल, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर आग्रह किया था कि दूसरे देशों के टीकों को भी मंजूरी दी जाए। इसके बाद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने उन पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया था कि कांग्रेस नेता विदेशी कंपनियों के लिए लॉबिंग कर रहे हैं। 
उल्लेखनीय है कि केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) की विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) ने ‘स्पूतनिक वी’ के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दिए जाने की सिफारिश की है। भारत का औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) इस सिफारिश पर अंतिम निर्णय लेगा। यदि इस टीके को मंजूरी मिल जाती है तो यह भारत में उपलब्ध तीसरा कोविड-19 रोधी टीका होगा। 
इसको लेकर राहुल गांधी ने सोमवार को ट्वीट किया, ‘‘ एक सीधा-सा लेटर,उसमें जन की बात...विपक्ष के सुझाव अच्छे हैं! ’’ 
कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘‘अयोग्य सरकार ने देर से सही, कुछ तो सीख ली। जब दो दिन पहले सभी टीकों को अनुमति देने के लिए राहुल गांधी ने कहा तो रवि शंकर प्रसाद बेतुकी बयानबाज़ी कर रहे थे। उम्मीद है अब रविशंकर प्रसाद विशेषज्ञ समिति के बारे में तो बग़ैर सिर पैर की बात करने से बाज़ आएंगे।’’ 
facebook twitter instagram