+

लॉकडाउन के बीच UP में निर्माण कार्य तेज, पूर्वांचल और बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस वे ने एक बार फिर पकड़ी रफ्तार

लॉकडाउन के बीच UP में निर्माण कार्य तेज, पूर्वांचल और बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस वे ने एक बार फिर पकड़ी रफ्तार
कोरोना वायरस (कोविड-19) के मद्देनजर 17 मई तक देशव्यापी लॉकडाउन जारी है। वहीं उत्तर प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना संकट के बीच सरकार ने निर्माण कार्य में गति देनी शुरू कर दी है। लॉकडाउन के बीच पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के निर्माण का काम शुरू हो गया है।
मिली जानकारी के मुताबिक काम करने वाले मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण कराए जाने के बाद ही उनको काम पर लगाया जा रहा है और इस दोरान सोशल डिस्टेंसिंग के फार्मूले का भी पूरा पालन किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश एक्सप्रेस वे विकास प्राधिकरण (यूपीडा) की ओर से मिली जानकारी के अनुसार निर्माण कार्य में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे निर्माण कार्य तेज गति से चल रहा है। लखनऊ से लेकर गाजीपुर तक एक्सप्रेस वे बनाया जा रहा है।
करीब 341 किमी लम्बे पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का 42 फीसदी से अधिक निर्माण कार्य पहले ही हो चुका है। पूरा पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के 8 पैकेजों में निर्माण कार्य तेजी से शुरू हो गया है। अधिकारियों का दावा है कि लॉकडाउन के बीच उप्र के तीन बड़े इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट में काम शुरू हो गया है। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे, बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस वे एवं गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे का निर्माण फिर से शुरू कर दिया गया है।

ओडिशा में कोविड-19 के 20 नए मामलों की पुष्टि के बाद संक्रमितों का आंकड़ा 200 के पार

उत्तर प्रदेश एक्सप्रेस वे विकास प्राधिकरण (यूपीडा) के मीडिया प्रभारी दुर्गेश उपाध्याय ने बताया कि एक्सप्रेस वे निर्माण कार्य प्रारम्भ किया जा चुका है। पूर्णबंदी के दौरान पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के निर्माण कार्य में सोशल डिस्टेंसिंग के पालन का भी पूरा ध्यान रखा जा रहा है। वहीं मजदूरों, मशीन चालकों और ठेकेदारों को निर्देश दिया गया है कि वे बिना आवश्यक एक-दूसरे के संपर्क में ना आएं।
इसके साथ ही लगातार मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण करवाया जा रहा है और स्वच्छता का भी ध्यान रखा जा रहा है। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे, बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस वे और गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे का निर्माण कार्य 20 अप्रैल से फिर शुरू कर दिया गया है।
facebook twitter