+

कोरोना : यूपी में बीते 24 घंटे में कोरोना के 817 नए मामलों की पुष्टि, उपचाराधीन मामलों की संख्या 6869 हुई

कोरोना : यूपी में बीते 24 घंटे में कोरोना के 817 नए मामलों की पुष्टि, उपचाराधीन मामलों की संख्या 6869 हुई
उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। बीते 24 घंटे में कोरोना के 817 नए मामलों की पुष्टि हुई है, जिसके बाद प्रदेश में अब 6869 उपचाराधीन मामले हैं। प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने गुरुवार को बताया कि प्रदेश में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 735 हो गई है। पिछले 24 घंटे में 17 रोगियों की मौत हुई है।

प्रसाद ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान प्रदेश में कोविड-19 संक्रमण के कुल 817 नए मामले सामने आए हैं। प्रदेश में इस वक्त उपचाराधीन मामलों की कुल संख्या 6869 है। राज्य में अब तक 17221 लोग कोविड-19 को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना वायरस मरीजों के ठीक होने की दर 69.36 प्रतिशत है, जो राष्ट्रीय औसत 59.43 से अधिक है। प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में 6500 से ज्यादा हेल्प डेस्क स्थापित किये जा चुके हैं जिनके अब सकारात्मक परिणाम भी आने लगे हैं। 

अब तक हेल्प डेस्क के माध्यम से 2,553 लक्षण वाले लोगों की पहचान की गयी है, जिनकी जांच की जा रही है। उन्होंने कहा कि जिन्हें किसी भी प्रकार के लक्षण आ रहे हैं, वे अपने नजदीकी हेल्प डेस्क पर जाएं, जहां पर थर्मल स्क्रैनर एवं पल्स आक्सीमीटर उपलब्ध है। वहां परीक्षण उपरांत उचित सलाह दी जायेगी तथा आवश्यकता होने पर कोविड-19 की जांच कर प्रदेश सरकार द्वारा निःशुल्क उपचार किया जायेगा।

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य ने बताया कि प्रदेश में जांच का कार्य तेजी से किया जा रहा है। बुधवार को एक दिन में 24,890 नमूने की जांच की गयी। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 7,81,584 नमूने की जांच की गयी है। प्रदेश में आईटीपीसीआर एवं 11 जनपदों में रैपिड एण्टीजेंट टेस्ट से जांच की जा रही है। इस प्रकार प्रदेश में कोरोना वायरस जांच की तीनों विधियों का प्रयोग किया जा रहा है। 

उन्होंने बताया कि पूल टेस्ट के अन्तर्गत कुल 1974 पूल की जांच की गयी, जिसमें 1779 पूल 5-5 सैम्पल के तथा 195 पूल 10-10 सैम्पल की जांच की गयी। उन्होंने बताया कि ग्राम एवं मोहल्ला निगरानी समितियों के द्वारा निगरानी का कार्य सक्रियता से किया जा रहा है। अब तक 1,55,882 लाख निगरानी टीम द्वारा 1,14,25,295 घरों के 5,82,10,332 लोगों का सर्वेक्षण किया गया है।

facebook twitter