+

यूपी में कोरोना का कहर जारी, बीते 24 घंटे में 77 की मौत, 4,403 नए केस

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने रविवार को यहां बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में कोविड-19 के 77 और मरीजों की मौत हो गई। राज्य में अब तक इस संक्रमण से मरने वालों की संख्या अब 5594 हो गई है।
यूपी में कोरोना का कहर जारी, बीते 24 घंटे में 77 की मौत, 4,403 नए केस
उत्तर प्रदेश में कोरोना का प्रकोप कम  होने का नाम नहीं ले रहा है। पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड-19 से 77 और लोगों की मौत हो गई तथा 4403 नए मरीजों में इस संक्रमण की पुष्टि हुई। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने रविवार को यहां बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में कोविड-19 के 77 और मरीजों की मौत हो गई। राज्य में अब तक इस संक्रमण से मरने वालों की संख्या अब 5594 हो गई है।

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक सबसे ज्यादा 11 मरीजों की मौत राजधानी लखनऊ में हुई। इसके अलावा कानपुर नगर में सात, गोरखपुर में छह, कुशीनगर में पांच, प्रयागराज में चार, वाराणसी और इटावा में तीन-तीन, मेरठ, अलीगढ़, बलिया, आगरा, महराजगंज, हरदोई, रायबरेली और हापुड़ में दो-दो, गाजियाबाद, झांसी, बाराबंकी, अयोध्या, लखीमपुर खीरी, बस्ती, सीतापुर, पीलीभीत, चंदौली, बिजनौर, बहराइच, मैनपुरी, अमरोहा, फिरोजाबाद, संत कबीर नगर, कन्नौज, ललितपुर, अमेठी, औरैया, जालौन, हमीरपुर और फतेहपुर में कोविड-19 के एक-एक मरीज की मौत हुई है।

पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 4403 नए मरीजों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है। सबसे ज्यादा 549 नए मामले लखनऊ में आए हैं। इसके अलावा प्रयागराज में 263, गाजियाबाद में 229 और गौतम बुद्ध नगर में 204 नए मरीजों का पता लगा है। अपर मुख्य सचिव ने बताया कि 24 घंटों में कोरोना वायरस के 5656 मरीज पूरी तरह ठीक भी हुए हैं। राज्य में इस वक्त कोविड-19 के 55603 मरीजों का उपचार किया जा रहा है। प्रदेश में अब तक 387085 मरीजों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है जबकि उनमें से 325888 मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके हैं।

प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कोविड-19 के मरीजों के ठीक होने की दर 84.19% हो गई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में नमूनों की कोविड-19 जांच में कोई कमी नहीं होने के बावजूद पिछले करीब 10 दिनों से संक्रमण के नए मामलों में गिरावट आई है। प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में रोजाना डेढ़ लाख से ज्यादा नमूनों की जांच की जा रही है। हम स्पष्ट देख रहे हैं कि मामलों की संख्या सबसे तेजी से घट रही है लेकिन यही समय सबसे ज्यादा सावधानी बरतने का होता है।

उन्होंने बताया कि एक ऐसा दौर आता है जब कोविड-19 संक्रमण के मामलों में तेजी से गिरावट आती है, तब लोगों के अंदर यह भावना आने लगती है कि यह संक्रमण समाप्त होने वाला है और वे लापरवाही बरतने लगते हैं। ऐसा होते ही संक्रमण फिर बढ़ने लगता है। ऐसे में लोगों को पहले से भी ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में शनिवार को 157710 नमूनों की जांच की गई और अब तक कुल मिलाकर 9625076 नमूने जांचे जा चुके हैं।

facebook twitter