+

कोरोना कहर,इस वायरस का डर खत्म करने के लिए यह मंत्र बोलते हुए घर के सामने करें ये आसान टोटका

इस समय पूरी दुनिया को अपनी चपेट में लिए हुए कोरोना जैसी महामारी ने लोगों का जीवन तहस-नहस कर दिया है। विदेशों के बाद अब भारत में पैर पसार चुके कोरोना वायरस से चारो ओर हड़कप मचा हुआ है। वैसे तो इस समय कोरोना का खौफ हर इंसान के मन में है,लेकिन अगर आप उनमें से है जिसे कोराना का डर हद से ज्यादा सता रहा है ओर ये महामारी आप पर हावी हो रही है तो ऐसे में आपको अपने घर के सामने एक बार बताया गया ये तांत्रिक टोटका जरूर कर लेना चाहिए।


 बता दें कि तंत्र में ऐसा कहा गया है कि इस टोटके को कर लेने से बड़े से बड़ा शत्रु का डर हमेशा के लिए समाप्त  हो जाता है। दरअसल ऐसा इस वजह से क्योंकि इस उपाय को करने से उपायकर्ता और उसके आसपास एक रक्षाकवच बन जाता है,जो हर किसी डर का खात्मा कर देता है। 



उपाए को करने के लिए जरूरी सामग्री 

सरसों का तेल, नौ मिट्टी के दीपक, देशी कपूर, 9 लौंग, राई दाने, एक चुटकी आजवाईन एवं लाल धागा (कलावा) आदि।


कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए अचूक उपाय

सबसे पहले 9 दीपकों में सरसों का तेल भरकर उनमें लाल धागे की बत्ती लगायें। अब इन दीपकों में थोड़ा-थोड़ा देशी कपूर डाल दें। इसके बाद इन नौ दीयों में एक-एक लौंग भी डालें साथ ही चार-चार राई के दानें भी। 


सभी दीयों को इस मंत्र के उच्चारण के साथ जलाएं

इस मंत्र के उच्चारण ऊँ हुं हुं हुं हनुमते नमः करते हुए एक-एक करके सभी नौ दीपकों को जला दें। अब दीपक जलाने के बाद इनमें से दो दीपक अपने घर के मेन गेट पर रख दें, जबकि एक दीपक तुलसी में,एक रसोई घर में और एक घर के बीचों-बीच रखें। 


इसके अलावा बाकी के बचे हुए 4 दीए अपनी घर की छत के चारों कोने रखें। दरअसल ऐसा करने से घातक कोरोना नाम की बीमारी एवं शत्रुओं से आपके और आपके परिवार की रक्षा होगी। 


अब ये विधि कर लेने के बाद  एक लोटा लें  उसमें थोड़ा सा गंगाजल डालकर उसमें शुद्ध पानी मिलाएं। अब महामृत्युंजय मंत्र का उच्चारण करते हुए सबसे पहले अपने घर के आंगन में और फिर पूरे घर में इस जल का छिड़काव करें। ऐसा करने से यह महामारी फैलने वाले सूक्ष्म कीटाणु घर में प्रवेश नहीं सकेंगे। 
Tags : Chhattisgarh,Punjab Kesari,जगदलपुर,Jagdalpur,Sanctuaries,Indravati National Park ,Corona,house,epidemic,world