+

राजस्थान में यात्रा में उमड़ी भीड़, राहुल ने भाजपा कार्यालय की तरफ देखते हुए दिया ‘फ्लाइंग किस’

राजस्थान के झालावाड़ में राहुल गांधी के नेतृत्व में भारत जोड़ो यात्रा में मंगलवार को भारी भीड़ उमड़ी। राहुल ने यात्रा की एक झलक पाने के लिए भाजपा कार्यालय की छत पर जमा हुए लोगों के एक समूह की तरफ हाथ हिलाया और ‘फ्लाइंग किस’ दिया।
राजस्थान में यात्रा में उमड़ी भीड़, राहुल ने भाजपा कार्यालय की तरफ देखते हुए दिया ‘फ्लाइंग किस’
राजस्थान के झालावाड़ में राहुल गांधी के नेतृत्व में भारत जोड़ो यात्रा में मंगलवार को भारी भीड़ उमड़ी। राहुल ने यात्रा की एक झलक पाने के लिए भाजपा कार्यालय की छत पर जमा हुए लोगों के एक समूह की तरफ हाथ हिलाया और ‘फ्लाइंग किस’ दिया।
यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की झालावाड़ इकाई के उन लोगों को ‘फ्लाइंग किस’ दिया जो उनकी यात्रा की झलक पाने के लिए पार्टी कार्यालय की छत पर इंतजार कर रहे थे। उल्लेखनीय है कि राहुल गांधी ने ‘जय सियाराम’ और 'हे राम' का नारा नहीं लगाने को लेकर सोमवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और भाजपा पर निशाना साधा था।
मंगलवार सुबह यात्रा खेल संकुल से आगे बढ़ी जहां सोमवार रात्रि विश्राम के लिए रुकी थी। इसके बाद यात्रा झालावाड़ शहर को पार कर गई। करीब 12 किलोमीटर गुजरने के बाद यात्रा सुबह 10 बजे देवरीघाट पहुंची। भोजनावकाश के बाद दोपहर 3.30 बजे यात्रा सुकेत से दोबारा शुरू हुई। यात्रा में शामिल लोग रात्रि विश्राम के लिए झालावाड़ के मोरू कलां खेल मैदान में रूके।
राहुल गांधी के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट समेत कई मंत्री, विधायक व अन्य नेता तथा कार्यकर्ता हैं। यात्रा को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।
इस बीच, कांग्रेस ने मंगलवार को ‘क्यों ना जुड़े’ नाम से एक अभियान भी शुरू किया। इस अभियान का उद्देश्य भारत के लोगों की समस्याओं, परेशानियों और भावनाओं को सामने लाना है। कांग्रेस संचार प्रभारी जयराम रमेश ने पत्रकार वार्ता कर अभियान की शुरुआत की।
पार्टी ने महंगाई के प्रभाव को उजागर करने वाली एक लघु फिल्म भी जारी की। आने वाले दिनों में ‘क्यों ना जुड़े’ अभियान से संबंधित तीन और लघु फिल्म रिलीज होंगी, जो बेरोजगारी, सामाजिक समरसता और एकता पर केंद्रित होगी। यात्रा सात सितंबर को तमिलनाडु में कन्याकुमारी से शुरू हुई और अब तक तमिलनाडु, केरल, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और तेलंगाना समेत पांच दक्षिणी राज्यों को कवर कर चुकी है। इसके बाद, महाराष्ट्र तथा मध्य प्रदेश से होकर यात्रा राजस्थान में दाखिल हुई।
यह यात्रा फरवरी 2023 की शुरुआत में जम्मू कश्मीर में समाप्त होगी और 150 दिनों में 3,570 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। यात्रा के 90 दिन हो चुके हैं। मंगलवार को यात्रा में भारी भीड़ उमड़ी। यात्रा को देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग राष्ट्रीय राजमार्ग-52 के दोनों ओर खडे थे। पार्टी ने कहा कि यात्रा महंगाई, बेरोजगारी जैसी समस्याओं के खिलाफ आवाज उठाने और सामाजिक ध्रुवीकरण, आर्थिक असमानता को उजागर करने के लिए शुरू की गई है।
इस बीच, कांग्रेस ने अजय माकन द्वारा प्रदेश प्रभारी पद से इस्तीफा देने के बाद पंजाब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुखजिंदर सिंह रंधावा को इस पद पर नियुक्त किया है। मुख्यमंत्री गहलोत, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष, पूर्व उपमुख्यमंत्री पायलट ने रंधावा को बधाई दी है।
facebook twitter instagram