+

गिरती विकास दर और अर्थव्यवस्था चिंता का विषय : वीरभद्र

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभन्द्र सिंह ने देश की गिरती विकास दर और कमजोर होती अर्थव्यवस्था पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा है कि बढ़ती बेरोजगारी और महंगाई से साफ है
गिरती विकास दर और अर्थव्यवस्था चिंता का विषय : वीरभद्र
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभन्द्र सिंह ने देश की गिरती विकास दर और कमजोर होती अर्थव्यवस्था पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा है कि बढ़ती बेरोजगारी और महंगाई से साफ है कि केंद्र की भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार या तो समस्याओं को नहीं समझ पा रही है या फिर इन्हें जानबूझ कर अनदेखा कर रही है। 

श्री सिंह ने कहा कि देश में बन रहे हालत अच्छे नहीं है। अभिव्यक्ति की आजादी पर भारी दबाव है। 

उद्योगपति भी खराब होती अर्थव्यवस्था का विरोध नहीं कर पा रहे है। यही कारण है कि बड़े उद्योगों ने एक तरफ अपने उत्पादन में भारी कमी तो दूसरी तरफ बड़ स्तर पर कर्मचारियों की छंटनी कर दी है जो देश के लिए शुभ संकेत नहीं है। 

उन्होंने देश में महिलाओं पर बढ़ रहे अत्याचार और बलात्कार जैसी घटनाओं पर भी चिंता व्यक्त की और कहा कि अब समय आ गया है कि ऐसे मामलों से निपटने के लिए कठोर कानून और त्वारित न्याय सुनिश्चित हो। हाल ही में हैदराबाद और उत्तरप्रदेश की घटनाएं दिन दहला देने वाली हैं जिन्होंने निर्भयाकांड के जख्म ताजा कर दिए हैं। 

उन्होंने ने कांग्रेसजनों से आग्रह किया कि वे एकजुट होकर देश की बिगड़ती स्थिति पर मंथन कर लोगों को केन्द्र की कथित जनविरोधी नीतियों से अवगत कराएं। उन्होंने कहा कि 14 दिसम्बर को सोनिया गांधी के नेतृत्व में नई दिल्ली में प्रस्तावित अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की भारत बचाओ रैली को सफल बनाने के लिए सभी को अपना पूरा सहयोग देना चाहिए। 

उन्होंने कहा है कि देश को कांग्रेस पर ही भरोसा है कि वही देश में अच्छे दिन लाने का अनुभव रखती है। उन्होंने कांग्रेस के विधायकों और कार्यकर्ताओं से कहा है कि वे प्रदेश में पार्टी की मजबूती के लिए एकजुट हो जायें। 

उन्होंने कहा है कि गत दिनों प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा केंद्र की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ जिलावार किए गए आंदोलन से कांग्रेस को मजबूती मिली है। उन्होंने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर से कहा है कि वह प्रदेश में नई कार्यकारिणी में कर्मठ और उन युवा कार्यकर्ताओं को शामिल करें जो पार्टी की मजबूती के लिए दिल से काम करने के इच्छुक हैं।

facebook twitter