+

Delhi: उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया बोले- बच्चों में आत्मविश्वास पैदा करने की बहुत ज़रूरत

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शनिवार को बच्चों में आत्मविश्वास पैदा करने की ज़रूरत पर बल देते हुए कहा.....
Delhi: उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया बोले-  बच्चों में आत्मविश्वास पैदा करने की बहुत ज़रूरत
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शनिवार को बच्चों में आत्मविश्वास पैदा करने की ज़रूरत पर बल देते हुए कहा कि हमें बच्चों के सफल होने की क्षमता पर विश्वास रखना चाहिए और उन्हें अपने सपनों को पूरा करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए।
सिसोदिया ने कहा कि जब भी बच्चे आईएएस अधिकारी
सिसोदिया यहां दिल्ली बाल अधिकार संरक्षण आयोग (डीसीपीसीआर) के ''चिल्ड्रन फर्स्ट'' जर्नल के दूसरे अंक के विमोचन के अवसर पर भाषण दे रहे थे। उन्होंने कहा, ''हमारी शिक्षा प्रणाली की सबसे बड़ी कमी यह है कि हमें अपने बच्चों के सफल होने की क्षमता पर विश्वास नहीं है। सवाल यह नहीं है कि हम राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) को लेकर क्या सोचते हैं, बल्कि यह है कि हम अपने बच्चों के साथ घर और कक्षा में किस तरह से बातचीत करते हैं। इससे पता चलता है कि उनमें विश्वास की कमी है।''
राष्ट्रीय राजधानी के शिक्षा मंत्री सिसोदिया ने कहा कि जब भी बच्चे आईएएस अधिकारी, उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश या खिलाड़ी बनने का सपना बताते हैं, तो हम उन्हें उनकी सीमा के भीतर सपने देखने के लिए मजबूर करते हैं। उन्होंने कहा, ''आज एक गरीब घर की बेटी भी राष्ट्रपति बन सकती हैं। इसी तरह, हर लड़की अपना सपना पूरा कर सकती है, हमें केवल उसके आत्मविश्वास को मजबूत करने की ज़रूरत है।''
सिसोदिया ने कहा, ''मैं एक ऐसा देश चाहता हूं
सिसोदिया ने कहा, ''मैं एक ऐसे भारत का सपना देख रहा हूं, जहां हर बच्चा जीवन में सब कुछ हासिल करने का आत्मविश्वास रखता हो।'' उन्होंने कहा कि भारतीय शिक्षा प्रणाली ऐसी होनी चाहिए कि दूसरे देशों के लोग अपने बच्चों को यहां पढ़ने के लिए भेजें। यह पूछे जाने पर कि बच्चों के लिए वह किस तरह का भारत चाहते हैं? सिसोदिया ने कहा, ''मैं एक ऐसा देश चाहता हूं जहां शिक्षा, नौकरी, स्वास्थ्य और न्याय के अच्छे अवसर हों ताकि हमें दूसरे देशों पर निर्भर न रहना पड़े।'' समारोह में बतौर मुख्य अतिथि आए उच्चतम न्यायालय के न्यायमूर्ति बीवी नागरत्ना ने कहा कि बच्चों के लिए न्याय तक प्रभावी पहुंच सुनिश्चित करना आवश्यक है।

facebook twitter instagram