+

कोरोना संकट : ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स की आपूर्ति के लिए दिल्ली सरकार ने ओला और गिवइंडिया से मिलाया हाथ

दिल्ली सरकार ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक(ओसीबी) योजना के तहत ओला फाउंडेशन और गिवइंडिया के साथ मिलकर घर में आइसोलेशन के जरिए ठीक हो रहे कोविड-19 रोगियों को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स देने के साथ-साथ उन लोगों का भी सहयोग करेगी, जिन्हें रिकवरी के बाद इसकी आवश्यकता है।
कोरोना संकट : ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स की आपूर्ति के लिए दिल्ली सरकार ने ओला और गिवइंडिया से मिलाया हाथ
दिल्ली सरकार ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक(ओसीबी) योजना के तहत ओला फाउंडेशन और गिवइंडिया के साथ मिलकर घर में आइसोलेशन के जरिए ठीक हो रहे कोविड-19 रोगियों को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स देने के साथ-साथ उन लोगों का भी सहयोग करेगी, जिन्हें रिकवरी के बाद इसकी आवश्यकता है। शनिवार को, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घोषणा की कि राज्य सरकार विनाशकारी दूसरी लहर के बीच राजधानी के निवासियों की सहायता के प्रयास में एक और महत्वपूर्ण सेवा, ओसीबी योजना शुरू करने जा रही है।
केजरीवाल ने कहा, "अक्सर यह देखा गया है कि जब भी कोई व्यक्ति वायरस से संक्रमित होता है, तो उसके ऑक्सीजन का स्तर गिर जाता है। अगर उन्हें तुरंत ऑक्सीजन दिया जाए, तो उनके स्वास्थ्य को और बिगड़ने से रोका जा सकता है। अगर उन्हें समय पर ऑक्सीजन नहीं मिलती है, तो चीजें खराब हो सकती हैं। इसलिए , यह जरूरी है कि कोविड रोगियों को समय पर ऑक्सीजन मिले।"
इस योजना के तहत 11 जिलों में नोडल अधिकारी तैनात किया गया है और प्रत्येक जिले में लगभग 200 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स होंगे। दिल्ली सरकार की ओर से शनिवार देर रात जारी एक अधिसूचना में कहा गया है कि अस्पताल के अधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि डॉक्टर उन सभी कोविड मरीजों के संपर्क में रहें जिन्हें ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर दिया जा रहा है। साथ ही जरूरत पड़ने पर मरीजों को स्वास्थ्य केंद्रों पर भेजा जाएगा। रोगियों को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर प्रदान करने की अधिकतम अवधि दो माह है।
अधिसूचना में कहा गया है, "कोविड प्रबंधन नियमों के तहत, यदि फिर से ऑक्सीजन थेरेपी की आवश्यकता होती है, तो चिकित्सक द्वारा रोगी का मूल्यांकन किया जाएगा और मांग के अनुसार ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर प्रदान किया जाएगा।" घर पर ऑक्सीजन की आपूर्ति की सुविधा का लाभ उठाने के लिए व्यक्ति को एक मतदाता पहचान पत्र, अस्पताल से छुट्टी की प्रति जमा करनी होगी। मरीजों को ऑक्सीमीटर भी मिलेगा।
आप सरकार ने अपनी ओसीबी योजना को संचालित करने के लिए एक नया हेल्पलाइन नंबर जारी करने के बजाय, दिल्ली सरकार के मौजूदा हेल्पलाइन नंबर - 1031 को मजबूत करने का फैसला किया है, और इस नंबर को राष्ट्रीय राजधानी में कोविड प्रबंधन के लिए एक केंद्रीकृत हेल्पलाइन नंबर के रूप में जारी किया है। 1031 के अलावा दिल्ली के 11 जिलों के कंट्रोल रूम में भी लोग सीधे कॉल कर सकते हैं। दिल्ली लगभग दो महीने से ध्वस्त स्वास्थ्य प्रणाली और ऑक्सीजन की कमी के साथ महामारी से जूझ रही है।
पिछले एक सप्ताह में, दिल्ली में 2,173 कोविड रोगियों की मृत्यु हुई है, पिछले साल की शुरूआत में महामारी की पहली लहर के बाद से कुल मृत्यु का आंकड़ा 21,244 हो गया है। शहर में 4 मई से हर दिन 300 से अधिक मौतें हो रही हैं। एक दिन में सबसे अधिक मौतें 3 मई को हुईं, जब शहर में कुल 448 कोविड रोगियों की जान गई।
facebook twitter instagram