कोरोना संकट : दिल्ली सरकार ने राजस्व की कमी के कारण केंद्र से मांगी 5000 करोड़ रुपए की मदद

02:11 PM May 31, 2020 |
देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस  (कोविड-19) की विकरालता दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है । राजधानी में हर दिन मरीजों की संख्या में उछाल सामने आ रहा है। वायरस के फैलाव के मद्देनजर 25 मई से देशव्यापी लॉकडाउन लागू है। कोरोना संकट और लॉकडाउन ने देश की अर्थव्यवस्था को काफी चोटिल किया है। इस बीच दिल्ली सरकार ने राजस्व की कमी के कारण केंद्र से 5,000 करोड़ रुपए की मदद मांगी है।
इस बारे में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार को कहा कि दिल्ली सरकार ने कर्मचारियों को वेतन देने के लिए केंद्र से पांच हजार करोड़ रुपये की सहायता मांगी है। सिसोदिया के पास वित्त विभाग का भी प्रभार है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार को अपने कर्मचारियों के वेतन और अन्य आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए हर महीने 3,500 करोड़ रुपये की जरूरत होती है।
सिसोदिया ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हालांकि, पिछले दो महीनों में जीएसटी संग्रह प्रति महीने केवल 500 करोड़ रुपये का हुआ है। हमें अपने कर्मचारियों का वेतन देने में सक्षम होने के लिए कम से कम सात हजार करोड़ रुपये की आवश्यकता है जिनमें से अनेक कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ अग्रिम पंक्ति के दायित्व को अंजाम दे रहे हैं।’’ उपमुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर उन्होंने केंद्र से पांच हजार करोड़ रुपये मांगे हैं क्योंकि दिल्ली को आपदा राहत कोष से कुछ भी नहीं मिला, जबकि दूसरे राज्यों को मिला है।
सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा कि "मैंने केंद्रीय वित्त मंत्री को चिट्ठी लिखकर दिल्ली के लिए 5 हजार करोड़ रुपए की राशि की मांग की है। कोरोना व लॉकडाउन की वजह से दिल्ली सरकार का टैक्स कलेक्शन करीब 85% नीचे चल रहा है। केंद्र की ओर से बाकी राज्यों को जारी आपदा राहत कोष से भी कोई राशि दिल्ली को नहीं मिली है।" इस ट्वीट के बाद मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि "केंद्र सरकार से निवेदन है कि आपदा की इस घड़ी में दिल्ली के लोगों की मदद करे।"

कोरोना वायरस : राजस्थान में संक्रमितों की संख्या 8700 के करीब, अब तक 194 लोगों की मौत

बता दें कि पिछले तीन दिन से लगातार एक हजार से ऊपर मामले आ रहे है। इसी बीच दिल्ली में शनिवार को पिछले 24 घंटों में कोरोना के सर्वाधिक 1163 मामले सामने आने से संक्रमितों का आंकड़ा 18 हजार को पार कर गया तथा इस दौरान 18 मरीजों की मौत से मृतकों की संख्या बढ़कर 416 पर पहुंच गई। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शनिवार शाम जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में वायरस के 1163 मामले आए और कुल संख्या 18549 पर पहुंच गई।उन्होंने कहा कि दिल्ली में वायरस से 8075 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। फिलहाल 10058 मामले सक्रिय हैं।