+

दिल्ली : कोरोना को लेकर बोले स्वास्थ्य मंत्री, अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या कम, गंभीर नहीं हालात

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बुधवार को कहा कि अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या अब भी बहुत कम है और शहर में कोविड​​-19 संबंधी मौजूदा स्थिति इतनी गंभीर नहीं है।
दिल्ली : कोरोना को लेकर बोले स्वास्थ्य मंत्री, अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या कम, गंभीर नहीं हालात
राष्ट्रीय राजधानी में बढ़ते कोरोना वायरस के मामलो को लेकर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बुधवार को कहा कि अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या अब भी बहुत कम है और शहर में कोविड​​-19 संबंधी मौजूदा स्थिति इतनी गंभीर नहीं है। कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर पाबंदियां लगाने की आवश्यकता पर पूछे गए सवाल पर जैन ने अपने पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से कहा कि सरकार स्थिति पर नजर बनाए है और मौजूदा स्थिति इतनी गंभीर नहीं है।
अस्पतालों में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के लिए 10 हजार बिस्तर आरक्षित किए हैं : जैन
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, दिल्ली में अधिक संख्या में कोविड-19 संबंधी जांच हो रही हैं। पात्र आबादी का टीकाकरण होने की वजह से अस्पताल में भर्ती होने वाले संक्रमितों की संख्या कम है, और पिछले कुछ दिनों से रोजाना 1200 से 1500 दैनिक मामले सामने आ रहे हैं। संक्रमण दर पांच से छह प्रतिशत के बीच है। जैन ने कहा, हमने अस्पतालों में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के लिए 10 हजार बिस्तर आरक्षित किए हैं, जिनमें से 200 से कम पर ही मरीज भर्ती हैं। यह काफी संतोषजनक तथ्य है। स्थिति अभी इतनी गंभीर नहीं है।
अब तक तक 26 हजार से ज्यादा लोगों की हो चुकी है मौत
जैन द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार को कोविड-19 के 1,414 मामले सामने आए थे, जो एक दिन पहले सामने आए मामलों की तुलना में करीब 31 प्रतिशत अधिक थे। संक्रमण दर 5.97 प्रतिशत थी और संक्रमण से मौत का एक मामला सामने आया था। राजधानी में कोविड-19 के अभी तक 18,87,050 मामले सामने आए हैं, जबकि संक्रमण से अभी तक कुल 26,176 लोगों की मौत हुई है।

facebook twitter instagram