+

दिल्ली के मुस्लिम अरविंद केजरीवाल से है खफा, आज पता चल गया

आम आदमी पार्टी ने दिल्ली नगर निगम चुनाव में बुधवार (7 दिसंबर) को 134 सीट जीतकर प्रतिष्ठित नगर निकाय पर BJP के 15 साल के शासन को खत्म कर दिया. एमसीडी के 250 वार्डों में हुए चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने 104 सीटें हासिल कीं, जबकि कांग्रेस के हिस्से में सिर्फ नौ सीटें आईं
दिल्ली के मुस्लिम अरविंद केजरीवाल से है खफा, आज पता चल गया
आम आदमी पार्टी ने दिल्ली नगर निगम  चुनाव में बुधवार (7 दिसंबर) को 134 सीट जीतकर प्रतिष्ठित नगर निकाय पर BJP के 15 साल के शासन को खत्म कर दिया। एमसीडी के 250 वार्डों में हुए चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने 104 सीटें हासिल कीं, जबकि कांग्रेस के हिस्से में सिर्फ नौ सीटें आईं. एमसीडी चुनाव में जीत से खुश दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने नागरिक सुविधाओं में सुधार का संकल्प व्यक्त किया और इसके लिये केंद्र और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का ‘आशीर्वाद’ मांगा।

इस चुनाव परिणाम में आम आदमी पार्टी को मुस्लिम बहुल्य विधानसभाओं के वोटर से बड़े समर्थन की उम्मीद थी, हालांकि पार्टी को मुस्लिम बहुत इलाकों में उम्मीद के मुताबिक जनसमर्थन नहीं मिला। मुस्लिम बाहुल्य 6 विधानसभाओं के 23 वार्डो में से आम आदमी पार्टी सिर्फ 8 वार्ड ही जीत पाई।

1 बल्लीमारान के 3 वार्डों में 2 पर आम आदमी पार्टी और एक पर बीजेपी ने जीत दर्ज की
2 मुस्तफाबाद विधानसभा के सभी पांच वार्ड में आम आदमी पार्टी को हार का समाना करना पड़ा
3 सीलमपुर विधानसभा के सभी 4 वार्ड में आम आदमी पार्टी को हार का मुंह देखना पड़ा
4 ओखला विधानसभा के 5 वार्ड में से 4 वार्ड पर आप हारी, उसे सिर्फ 1 सीट पर जीत मिली
5 मटिया महल विधानसभा के सभी 3 वार्ड पर आम आदमी पार्टी को जीत मिली
6 वहीं चांदनी चौक विधानसभा के सभी 3 वार्ड आम आदमी पार्टी ने जीत लिए हैं.

 रिजल्ट के बाद क्या बोले केजरीवाल

वहीं पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि नगर निकाय को ‘भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी’ से छुटकारा मिलेगा. केजरीवाल ने कहा, “हम सभी को दिल्ली की हालत सुधारनी है और मुझे BJP और कांग्रेस सहित सभी के सहयोग की जरूरत है.
facebook twitter instagram