+

पर्यावरण में बदलाव के लिए दीया मिर्जा ने अधिकारियों को ठहराया जिम्मेदार, कह डाली ऐसी बात

अभिनेत्री दीया मिर्जा पर्यावरण के मुद्दों पर हमेशा मुखर रही हैं। गुरुवार को पृथ्वी दिवस के अवसर पर उन्होंने कहा कि हमें पर्यावरण में बदलाव के लिए अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराना चाहिए
पर्यावरण में बदलाव के लिए दीया मिर्जा ने अधिकारियों को ठहराया जिम्मेदार, कह डाली ऐसी बात
अभिनेत्री दीया मिर्जा पर्यावरण के मुद्दों पर हमेशा मुखर रही हैं। गुरुवार को पृथ्वी दिवस के अवसर पर उन्होंने कहा कि हमें पर्यावरण में बदलाव के लिए अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराना चाहिए, इसके अलावा व्यक्तिगत मोर्चे पर भी प्रयास करने चाहिए।


उन्होंने कहा, अब हमें पहले की तुलना में अधिक गति लाने की जरूरत है। बेशक व्यक्तिगत व्यवहार परिवर्तन से फर्क पड़ेगा,लेकिन अधिक स्थायी जीवन शैली का नेतृत्व करने के लिए सीखने के साथ-साथ हमें सरकारों, उद्योग और नागरिक समाज को जवाबदेह बनाने की आवश्यकता है। वैज्ञानिक तथ्यों का प्रसार जो अब पहले से कहीं ज्यादा है, हमें उसकी मदद लेनी चाहिए।


अभिनेत्री ने अब लोगों से आवाज उठाने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा,हमें प्रकृति/वन्यजीवों की रक्षा के लिए आंदोलनों में शामिल होना चाहिए और उन कानूनों की मांग करनी चाहिए जो जरूरी बदलावों को सुनिश्चित करेंगे। हमें और दुनिया के हर एक नागरिक को पहले जैसी स्थिति बहाल करने की दिशा में काम करने की जरूरत है। जब राजनीतिक, व्यापारिक और पर्यावरणीय नेता सभी लोगों के साथ मिलकर पृथ्वी की रक्षा के लिए जुड़ेंगे तभी एक बेहतर दुनिया अस्तित्व में आएगी।


वह कहती हैं कि महामारी ने हमें बहुत कुछ सिखाया है कि हम पर्यावरण के साथ कैसे जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा,कोविड महामारी ने हमें स्पष्ट रूप से समझा दिया है कि हमें अपने जीने, उत्पादन, निर्माण और उपभोग के तरीकों में बदलाव करना होगा। आज हर एक इंसान का स्वास्थ्य और हमारा सामूहिक सामंजस्य अधर में लटका हुआ है और प्रकृति मां के साथ से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।


जागरूकता फैलाने की जरूरत पर दीया ने जोर देते हुए कहा, हमें आवश्यकता है सभी संभावित स्तरों पर पर्यावरण साक्षरता का प्रसार करने की क्योंकि इस बार पृथ्वी दिवस का विषय एक स्पष्ट पुकार है प्राकृतिक दुनिया के संतुलन को बहाल करने की जिस पर सभी का जीवन निर्भर है।
facebook twitter instagram