महिला आयोग के समक्ष पेश नहीं हुए दिग्विजय चौटाला

चंडीगढ़ : स्टेज डांसर ने नेता बनी सपना चौधरी के खिलाफ टिप्पणी किए जाने के मामले में जजपा नेता दिग्विजय सिंह चौटाला सोमवार को महिला आयोग के समक्ष पेश नहीं हुए। दिग्विजय ने पत्र लिखकर आयोग से दो सप्ताह की मोहलत मांग ली है। जिसे स्वीकार करते हुए महिला आयोग ने उन्हें 15 दिन का समय दे दिया है। अब इस मामले की सुनवाई छह अगस्त को होगी।

रियाणवी मूल की डांसर सपना चौधरी हालही में भाजपा में शामिल हुई थी। जिसके बाद विपक्षी दलों द्वारा भाजपा को घेरा जा रहा है। इसी दौरान जननायक जनता पार्टी के नेता दिग्विजय ने कहा था कि अब भाजपा अश्लील डांस करने वालों का सहारा लेकर लोग वोट मांगेगी। इस पर कड़ा नोटिस लेते हुए आयोग ने दिग्विजय चौटाला को नोटिस जारी कर उनकी टिप्पणी को महिलाओं का अपमान करार दे दिया।

नोटिस के तहत सोमवार को चौटाला को व्यक्तिगत तौर पर आयोग में पेश होकर अपना जवाब देना था। उन्होंने आयोग को पत्र लिखकर कहा है कि उन्हें जवाब देने के लिए पंद्रह दिन का समय चाहिए। वह अभी तथ्य जुटा रहे हैं ताकि अपने जवाब से आयोग को संतुष्ट कर सकें। सूत्रों के अनुसार दिग्विजय चौटाला विभिन्न समाचार-पत्रों की कङ्क्षटग के अलावा सोशल मीडिया पर वायरल हुई वीडियो क्लिप लेकर आयोग में पेश होंगे।

इस बारे में महिला आयोग की उपाध्यक्षा प्रीति भारद्वाज ने कहा कि दिग्विजय चौटाला को आज प्रत्यक्ष रूप से आयोग मुख्यालय में पेश होना था। उन्होंने पत्र लिखकर जवाब देने के लिए 15 दिन की मोहलत मांगी है। आयोग ने समय देने का फैसला लिया है। अगस्त के पहले सप्ताह में इस मामले की सुनवाई होगी। दिग्विजय चौटाला को एक महिला के प्रति की गई अपनी टिप्पणी पर जवाब देना ही होगा।
Tags : ,Digvijay Chautala,Commission