केंद्र से राहत राशि के मामले में दिग्विजय ने लिखा शिवराज को पत्र

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने केंद, सरकार पर राज्य के साथ भेदभाव करने का आरोप लगाते हुए आज इस संबंध में पूर्व मुख्यमंत्री एवं वरिष्ठ भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान से कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद, मोदी से दोनों को एकसाथ मुलाकात करना चाहिए। 

श्री सिंह ने श्री चौहान को लिखे पत्र में कहा है कि वे राज्य की जनता के हित में थोड़ सा वक्त निकालें और दोनों (श्री सिंह और श्री चौहान) ही इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री से चर्चा करें। श्री सिंह ने उम्मीद जतायी है कि प्रधानमंत्री श्री चौहान की बात नहीं टालेंगे और यदि ऐसा हुआ तो फिर हम दोनों को ही प्रधानमंत्री निवास के समक्ष मध्यप्रदेश के हित में धरने पर बैठना चाहिए। 

श्री सिंह ने पत्र में आरोप लगाया है कि केंद, सरकार मध्यप्रदेश के साथ लगातार भेदभावपूर्ण रवैया अपना रही है। राज्य में अतिवृष्टि और बाढ़ आदि के कारण उत्पन्न हालातों से निपटने के लिए राज्य सरकार ने तुरंत कदम उठाकर नागरिकों को राहुत पहुंचायी है। लेकिन उन्हें यह जानकर भी दुख हुआ कि केंद, सरकार ने प्राकृतिक आपदा से निपटने के लिए दी जाने वाली राशि में अपना हिस्सा 90 प्रतिशत से घटाकर 75 प्रतिशत कर दिया है। 

उन्होंने मध्यप्रदेश से जुड़ कई मुद्दे उठाते हुए कहा कि इन सबको लेकर श्री चौहान को आगे आना चाहिए। श्री सिंह ने कहा कि जब श्री चौहान स्वयं मुख्यमंत्री थे, तब उन्होंने तत्कालीन केंद्र सरकार के खिलाफ भेदभाव बरतने का आरोप लगाते हुए धरना दिया था। उन्हें अब भी धरना देना चाहिए।
Tags : Badrinath,चारधाम यात्रा,बद्रीनाथ,हिमपात,Snow,भीषण ठंड,Kedarnath Dham,केदारनाथ धाम,Chardham Yatra,Gruzing cold ,Shivraj Singh Chauhan,Digvijay Singh,Narendra,center,government,state,Congress,Madhya Pradesh,Chief Minister,senior,Modi,BJP