मैं कई ऐसे लोगों को जानता हूं जिन्होंने वन प्रशासन संभालने के दौरान लाखों रुपए बनाए : सत्यपाल मलिक

जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने सोमवार को कहा कि राज्य का वन प्रशासन संभालने वालों ने गलत तरीकों से लाखों रूपये बनाये लेकिन उनका प्रशासन ऐसे किसी भी व्यक्ति को नहीं बख्शेगा जो भ्रष्ट तरीकों में लिप्त रहे हैं। 

सत्यपाल मलिक ने यहां जबरवां पहाड़ पर पौधरोपण अभियान शुरू करने के बाद संवाददाताओं से कहा,‘‘(किसी के खिलाफ) बदले की कोई भावना नहीं है। जिस तरह अपने स्वभाविक तरीके से भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो अब काम कर रहा है ,(उसके आधार पर हम कह सकते हैं कि) हम बड़ी मछलियों को नहीं बख्शेंगे। कोई भी नहीं बख्शा जाएगा, चाहे वह किसी भी दल से जुड़ा क्यों न हो या कितना बड़ा क्यों न हो। कानून के सामने कोई बड़ा नहीं है। मैं यहां हूं। मैं कहीं नहीं जा रहा।’’ 

राज्यपाल ने कहा कि राज्य के वन विभाग में काम करने वाले कई लोगों ने वनों को नष्ट कर लाखों रूपये बनाये हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ जिन लोगों ने वन विभाग में काम किया है, दिल्ली के वसंत विहार या महारानी बाग में उनके बंगले तो देखिए। मैं ऐसे कई परिवारों को जानता हूं जिन्होंने वनों के प्रभारी रहने के दौरान लाखों बनाए। 

जम्मू कश्मर के वनों को बड़ी निर्दयता से नष्ट किया गया। वे हमारे फेफड़े हैं और हम उसी की वजह से जिंदा हैं।’’ उन्होंने कहा कि कश्मीर में कई ऐसे स्थान है जहां पौधरोपण के चलते ही शून्य प्रदूषण है। उन्होंने कहा, ‘‘ हमें उसे बढ़ाना होगा और 50 लाख पेड़-पौधे लगाने के लक्ष्य को हासिल करना होगा। 

उन्हें रोपना ही काफी नहीं है बल्कि हम सालभर उनकी रक्षा भी करेंगे। मैं खुद ही देखूंगा कि मैंने जो पेड़ लगाया है वह अच्छी तरह बढ़ रहा है या नही । हम उसकी सुरक्षा के लिए कदम उठायेंगे।’’ 
Tags : ,administration,forest administration,Satyal Malik