इन 5 चीजों का दान सूर्यास्त के समय नहीं करना चाहिए, नहीं तो चली जाएंगी बरकत और लक्ष्मी

शास्‍त्रों में कहा गया है कि दान करना बहुत शुभ होता है। हालांकि कुछ ऐसी भी चीजें हैं जिन्हें दान में देना आपके लिए हानिकारक हो सकता है। इन चीजों को दान में देने से आपके घर से धन-सपंत्ति कम हो जाती है। भूलकर भी इन चीजों को शाम को दान में नहीं देना चाहिए। 


अगर आपके पड़ोसी इन चीजों को दिन के समय मांगते हैं तो आप उन्हें जरूर देें लेकिन शाम के समय इनका दान करना अच्छी नहीं माना गया है। शास्‍त्रों में कहा गया है कि इन चीजों का शाम के समय दान में देने से घर की बरकत के साथ आर्थिक परेशानियां भी हो जाती हैं। ऐसी 6 चीजें हैं जिनका दान सूर्यास्त के समय पर नहीं किया जाता है। 

देने से बचें प्याज-लहसुन


केतु ग्रह से प्याज-लहसुन का संबंध बताया गया है। ऊपरी ताकतों का स्वामी ग्रह केतु को बताया गया है। केतु ग्रह के अंदर ही जादू-टोना आता है। इसी वजह से प्याज और लहसुन सूर्यास्त के समय देने के लिए अशुुभ मानते हैं। 

लक्ष्मी जी काे विदा ना करें प्रवेश के समय


देवी लक्ष्मी से धन का संबंध होता है। ज्यादातर लोग अपने घर का मुख्य दरवाजा शाम के समय खोलकर रखते हैं। मान्यताओं के अनुसार लक्ष्मी का घर में संध्या के समय ही प्रवेश करती हैं। अगर इस समय आप धन किसी को भी देते हैं तो आप लक्ष्मी जी को विदा कर रहे हैं। 

गुरु कमजोर होता है जल्दी को देने से


मान्यताओं के अनुसार, जिन लोगों का गुरु बलवान और शुभ होता है उन्हें हल्दी दान में गुरुवार के दिन नहीं देनी चाहिए। खासतौर पर शाम के समय नहीं देनी चाहिए। गुरु कमजोर हल्दी इस दिन देने से हो जाता है साथ ही धन और वैभव में भी कमी आ जाती है। 

लक्ष्मी-नारायण दूध देने से रूठ जाते हैं


चन्द्रमा और सूर्य दोनों से दूध का संबंध है। लक्ष्मी और विष्‍णु जी के साथ दूध का संबंध प्राचीन समय से माना गया है। दिन-रात के संधि काल में दूध किसी को भी दान या नहीं देना चाहिए। ऐसा कहा जाता है कि दूध शाम के समय देने से बरकत भी चली जाती है। 

सुख-समृद्धि इसे देने से कम हो जाती है


ज्योतिशास्‍त्र में कहा गया है कि शुक्र से दही का संबंध है। दही सुख और वैभव देती है। इसलिए कहते हैं कि दही किसी को भी सूर्यास्त के समय नहीं देनी चाहिए। ऐसा करने से सुख और वैभव की भी कमी जीवन में हो जाती है। 
Tags : Chhattisgarh,Punjab Kesari,जगदलपुर,Jagdalpur,Sanctuaries,Indravati National Park ,Lakshmi,Barkat