+

दशहाराः सभा में आज गरजेंगे उद्धव ठाकरे, शिंदे को देंगे चुनौती! आधी रात शिवाजी पार्क पहुंचे आदित्य

आज दशहरा पूरे देश में धूमधाम से मनाया जाएगा। महाराष्ट्र की राजनीति और खासकर शिवसेना के लिए आज का दिन बेहद अहम है। 1966 से भगवा पार्टी मुंबई के शिवाजी पार्क में दशहरा उत्सव मना रही है। शिवसेना के संस्थापक बालासाहेब
दशहाराः सभा में आज गरजेंगे उद्धव ठाकरे, शिंदे को देंगे चुनौती! आधी रात शिवाजी पार्क पहुंचे आदित्य
आज दशहरा पूरे देश में धूमधाम से मनाया जाएगा। महाराष्ट्र की राजनीति और खासकर शिवसेना के लिए आज का दिन बेहद अहम है। 1966 से भगवा पार्टी मुंबई के शिवाजी पार्क में दशहरा उत्सव मना रही है। शिवसेना के संस्थापक बालासाहेब ठाकरे और उद्धव ठाकरे ने इस सभा को संबोधित किया है। कुछ अपवादों को छोड़कर शिवसेना ने इस मौके को कभी हाथ से जाने नहीं दिया। हालांकि इस साल तस्वीर बदली हुई नजर आ रही है। एकनाथ शिंदे द्वारा दिए गए जबरदस्त प्रहारों से शिवसेना काफी कमजोर हो गई है। उद्धव ठाकरे के गुट के सामने चुनौती पार्टी के अस्तित्व को बचाने की है। शिंदे ने शिवसेना के चुनाव चिन्ह तीर-धनुष पर भी दावा पेश किया है।
शिवाजी पार्क में दशहरा सभा के आयोजन को लेकर भी दो खेमों के बीच मारपीट हुई। हालांकि उद्धव कैंप को कोर्ट से राहत मिल गई। शिवसैनिकों ने इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त की कि शिव सेना ने अदालती लड़ाई के बाद शिवाजी पार्क का मैदान जीत लिया। शिवसेना के लिए आज का दिन कितना अहम है इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि कल देर रात आदित्य ठाकरे शिवाजी पार्क पहुंचे और दशहरा सभा की तैयारियों का जायजा लिया। 
युवा सेना प्रमुख आदित्य ठाकरे आधी रात को दादर के शिवाजी पार्क मैदान पहुंचे। इस मौके पर उन्होंने शिवसेना प्रमुख बालासाहेब ठाकरे को नमन किया। आदित्य ठाकरे शिवतीर्थ पहुंचे और बालासाहेब ठाकरे की तस्वीर पर फूल चढ़ाकर उन्हें नमन किया।
शिवसेना नेता और विधायक आदित्य ठाकरे ने शिवाजी पार्क में दशहरा सभा की तैयारियों का जायजा लिया। इस मौके पर सांसद अनिल देसाई, पूर्व पार्षद विशाखा राउत, विभागाध्यक्ष महेश सावंत, राहुल कनाल मौजूद थे। आदित्य ठाकरे ने तैयारियों का जायजा लेने के बाद बालासाहेब ठाकरे के स्मारक स्थल का दौरा किया।
दशहरा मेले में शिंदे पर दौड़ेगी उद्धव ठाकरे की 'तोप'
1966 से शिवाजी पार्क में शिवसेना की दशहरा सभा हो रही है। कोरोना को छोड़कर हर साल यहां शिवाजी पार्क में दशहरा सभा होती थी। मुंबई नगर निगम ने कानून व्यवस्था का हवाला देते हुए दोनों समूहों को अनुमति देने से इनकार कर दिया था। हालांकि, शिवसेना ने बॉम्बे हाई कोर्ट का रुख किया। दशहरा सभा की अनुमति लेने के लिए वहां यह लड़ाई जीती। इस बैठक में क्या कहेंगे उद्धव ठाकरे, इसका इंतजार सभी को होगा?
facebook twitter instagram