+

ईज ऑफ लिविंग : रहने के लिए सबसे अच्छे शहरों की रेस में बेंगलुरू रहा सर्वश्रेष्ठ, दिल्ली टॉप 10 में भी नहीं

जीवन सुगमता (ईज ऑफ लिविंग) सूचकांक में टेक सिटी बेंगलुरू ने प्रथम, पुणे ने द्वितीय और अहमदाबाद ने तृतीय स्थान हासिल किया है।
ईज ऑफ लिविंग : रहने के लिए सबसे अच्छे शहरों की रेस में बेंगलुरू रहा सर्वश्रेष्ठ, दिल्ली टॉप 10 में भी नहीं
जीवन सुगमता (ईज ऑफ लिविंग) सूचकांक में टेक सिटी बेंगलुरू ने प्रथम, पुणे ने द्वितीय और अहमदाबाद ने तृतीय स्थान हासिल किया है। हालांकि पहले दस शहरों की सूची में दिल्ली और कोलकाता स्थान बनाने में कामयाब नहीं हो पायें हैं। केंद्रीय आवास एवं शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बृहस्पतिवार को जीवन सुगमता सूचकांक 2020 और निगम प्रदर्शन सूचकांक 2020 जारी किया। ऑनलाइन आयोजित किये गये इस समारोह में मंत्रालय में सचिव दुर्गा शंकर मिश्र और वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। 
जीवन सुगमता सूचकांक 2020 में देशभर के शहरों को दो भागों 10 लाख से अधिक आबादी और 10 लाख से कम आबादी में बांटा गया था। इस पूरी प्रतिस्पर्धा में 111 शहरों ने भाग लिया। दस लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में जीवन सुगमता सूचकांक 2020 में पहले स्थान पर कर्नाटक का बेंगलुरु, दूसरे स्थान पर महाराष्ट्र का पुणे और तीसरे स्थान पर गुजरात का अहमदाबाद रहा है। पहले दस में स्थान पाने वाले अन्य शहरों में तमिलनाडु का चेन्नई, गुजरात का सूरत, महाराष्ट्र का नवीं मुंबई, तमिलनाडु का कोयम्बटूर, गुजरात का वडोदरा, मध्यप्रदेश का इंदौर और महाराष्ट्र का ग्रेटर मुंबई शामिल है।
दस लाख से कम आबादी वाले शहरों में जीवन सुगमता सूचकांक में शिमला को प्रथम स्थान मिला है। दूसरे स्थान पर भुवनेश्वर और तीसरे स्थान पर दादर और नगर हवेली तथा दमन और दीव का सिलवासा रहा है। अन्य शहरों में आंध्रप्रदेश का काकीनाडा, तमिलनाडु का सेलम, वेेल्लोर, गुजरात का गांधीनगर, हरियाणा का गुरूग्राम, कर्नाटक का दावणगेरे और तमिलनाडु का तिरुचिरापल्ली है। 
facebook twitter instagram