ED ने यूपी चीनी मिल घोटाले में मनी लांड्रिंग का मामला किया दायर

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने उत्तर प्रदेश में बसपा नेता मायावती के कार्यकाल के दौरान हुए चीनी मिल विनिवेश घोटाले में मनी लांड्रिंग का मामला दायर किया है। इस मामले में सीबीआई ने पिछले सपताह कई स्थानों पर छापेमारी की थी। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। 

अधिकारियों ने बताया कि प्रवर्तन निदेशालय के लखनऊ के क्षेत्रीय कार्यालय ने सीबीआई की एफआईआर के आधार पर धन शोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के तहत आपराधिक मामला दायर किया है। 

एजेंसी ने अपनी प्रवर्तन मामला सूचना रिपोर्ट (ईसीआईआर) में तत्कालीन मुख्यमंत्री मायावती के सचिव नेतराम को ही आरोपी बनाया है। ईसीआईआर पुलिस की प्राथमिकी के समान होती है। 

ईडी यह जांच करेगा कि इस मामले में कथित रूप से जुटाए गए धन का इस्तेमाल संपत्तियां बनाने के लिए तो नहीं किया गया। 

सीबीआई ने राज्य की 10 चालू और 11 बंद चीनी मिलों की बिक्री में विनिवेश घोटाले की जांच के लिए एक एफआईआर और छह शुरुआती जांचें बिठाई। 

सीबीआई ने पूर्व आईएएस अधिकारियों नेतराम और विनय प्रिय दूबे तथा पूर्व विधान पार्षद मोहम्मद इकबाल के पुत्रों वाजिद अली और मोहम्मद जावेद के परिसरों पर छापेमारी की थी।

मायावती 2007 से 2012 तक उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री थी। उस अवधि में नेतराम उनके सचिव थे। वहीं दूबे उत्तर प्रदेश राज्य चीनी निगम के प्रबंध निदेशक थे। 
Download our app