इडुल्जी और रंगास्वामी ने सहयोगी स्टाफ की ‘असंवैधानिक’ नियुक्ति पर सवाल उठाये

नयी दिल्ली : सीओए सदस्य डायना इडुल्जी और बीसीसीआई की शीर्ष परिषद की नयी सदस्य शांता रंगास्वामी ने शुक्रवार को बोर्ड के सीईओ राहुल जौहरी को पत्र लिखकर महिला राष्ट्रीय टीम के लिये सहयोगी स्टाफ की ‘असंवैधानिक’ नियुक्ति पर सवाल उठाये। जीएम (क्रिकेट परिचालन) सबा करीम महिला क्रिकेट का कार्यभार संभालते हैं। 

इन नियुक्तियों के लिये वह संदेह के घेरे में हैं। हेमलता काला की अगुवाई वाले महिला चयन पैनल ने एक दिन पहले सीईओ को लिखकर दावा किया कि उन्हें सहयोगी स्टाफ की नियुक्ति प्रक्रिया से दूर रखा गया था। इसके एक दिन बाद पूर्व भारतीय कप्तान इडुल्जी और रंगास्वामी ने राष्ट्रीय महिला टीम के साथ इस तरह के रवैये की आलोचना की। बीसीसीआई संविधान के अनुसार चयनकर्ता ही पुरूष और महिला राष्ट्रीय टीम के सहयोगी स्टाफ की नियुक्त करते हैं।

हाल में पुरूष टीम के सहयोगी स्टाफ की नियुक्ति के लिये इस प्रक्रिया का पालन किया गया था। इडुल्जी ने पत्र में लिखा कि मैं महिला चयनकर्ताओं द्वारा आपको लिखे गये ईमेल में लिखी बातें पढ़कर हैरान हूं कि वीडियो विश्लेषक के चयन के लिये गलत प्रक्रिया का पालन किया गया।  उन्होंने लिखा कि यह और भी चिंता की बात है कि पुष्कर सावंत वेस्टइंडीज के लिये फ्लाइट भी बुक करा चुके है जिन्हें सबा करीम और एनसीए इस पद पर चाहते थे।

Tags : पटना,Patna,law,Ravi Shankar Prasad,Union Minister,Dalit,Punjab Kesari ,Idulji,Rangaswamy,support staff,CEO,women selection panel,Hemlata Kala