+

जम्मू-कश्मीर : डोडा जिले के इस गांव में पहली बार पहुंची बिजली, खुशी से खिले स्थानीय लोगों के चेहरे

उपराज्यपाल ने डोडा जिला प्रशासन को एक महीने के भीतर गांव का विद्युतीकरण सुनिश्चित करने को कहा था। जिला प्रशासन द्वारा सुदूर गांव को विद्युतीकृत करने का कार्य 15 दिनों के रिकॉर्ड समय में पूरा किया गया।
जम्मू-कश्मीर : डोडा जिले के इस गांव में पहली बार पहुंची बिजली, खुशी से खिले स्थानीय लोगों के चेहरे
जम्मू-कश्मीर में पर्वतीय डोडा जिले के गनौरी-तांटा गांव में पहली बार बिजली पहुंचने से स्थानीय लोगों के चलते पर खुशी की रौशनी नजर आई। दशकों बिजली पहुंचने से ग्रामीणों के जीवन से अंधकार समाप्त हो गया। उपराज्यपाल मनोज सिन्हा के आदेश पर गांव का विद्युतीकरण कार्य किया गया था।
स्थानीय निवासी मोहम्मद रमज़ान ने गांव में बिजली पहुंचने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा, हमारे गांव के लोगों को बिजली मिली ये बहुत खुशी की बात है। बाकी गांवों में काम चल रहा है। अब हमारे बच्चे पढ़ पाएंगे और हमारी तरक्की होगी। बिजली की वजह से अब जानवर भी हमारी बस्ती में नहीं आएंगे।
स्थानीय लोगों के एक समूह ने अंतिम ‘‘एलजी मुलाकात’’ कार्यक्रम में उनके सामने मांग रखी थी। उपराज्यपाल ने डोडा जिला प्रशासन को एक महीने के भीतर गांव का विद्युतीकरण सुनिश्चित करने को कहा था।  जिला प्रशासन द्वारा सुदूर गांव को विद्युतीकृत करने का कार्य 15 दिनों के रिकॉर्ड समय में पूरा किया गया। उपराज्यपाल के निर्देशों पर जिला प्रशासन ने जम्मू विद्युत वितरण निगम लिमिटेड (जेपीडीसीएल) के साथ समन्वय कर मौसम की प्रतिकूल परिस्थितियों के बावजूद युद्ध स्तर पर काम शुरू कर दिया। 
प्रवक्ता ने बताया कि ग्रामीणों के साथ ऐतिहासिक क्षण का जश्न मनाने के लिए, जिला विकास आयुक्त (डीडीसी) सागर डी डोईफोड ने गांव का दौरा किया और औपचारिक रूप से इस गांव के विद्युतीकृत किये जाने की घोषणा की। डीडीसी ने ग्रामीणों को पहली बार बिजली आपूर्ति मिलने पर बधाई दी। 


facebook twitter instagram