+

शिक्षामंत्री की रिहायश के आगे बुझे हुए दीए लगाकर बरोजगार अध्यापकों ने मनाई काली दीवाली

शिक्षामंत्री की रिहायश के आगे बुझे हुए दीए लगाकर बरोजगार अध्यापकों ने मनाई काली दीवाली
लुधियाना-संगरूर : संगरूर में पंजाब पुलिस के साथ हुई जबरदस्त मारपिटाई के बाद बेरोजगार बी.एड अध्यापकों ने शिक्षा मंत्री की रिहायश स्थल के आगे बुझे हुए दीए लगाकर आज संकेतिक तोर पर काली दीवाली मनाई।

इससे पहले संगरूर शहर में पिछले कई दिनों से पक्का मोर्चा लगाकर बैठे सैकड़ों बेरोजगार बी.एड अध्यापक जो काली दीवाली मनाने के लिए शिक्षामंत्री विजयइंद्र सिंगला की कोठी के आगे पहुचें हुए थे, पर पुलिस द्वारा लाठी चार्ज किया गया। आज घोषित कार्यक्रम के तहत सुबह से ही बेरोजगार अध्यापक अलग-अलग शहरों से इस रोष प्रदर्शन में पहुंचे हुए थे और पुलिस ने भी इन्हें रोकने के लिए पुख्ता प्रबंध करने के लिए कई इलाकों की थाना पुलिस और रिजर्व पुलिस को तैनात किया हुआ था। 

प्राप्त जानकारी के मुताबिक बेरोजगार अध्यापकों का यह धरना प्रदर्शन 51 दिन में दाखिल हो चुका है। बताया जा रहा है कि पिछली 30 सितंबंर को शिक्षामंत्री और बेरोजगार ई.टी.टी. टेंट पास अध्यापकों  की एक बैठक हुई थी, जिसमें शिक्षामंत्री ने 15 दिन का समय मांगते हुए  बेरोजगार अध्यापकों के मामले को हल करने की बात की थी किंतु कई दिन बीत जाने के बाद शिक्षामंत्री द्वारा बेरोजगार अध्यापकों की समस्या का कोई हल नहीं किया गया। 

अध्यापकों का कहना है कि रविवार को होने वाली इस दीवाली को वे सब काली दीवाली के रूप में मनाएंगे और आने वाले समय में बेरोजगार अध्यापकों द्वारा गुप्त रूप से संघर्ष तेज किया जाएंगा और इस सबकी जिम्मेदारी पंजाब सरकार की होगी।

- सुनीलराय कामरेड
Tags : ,Diwali,residence,teachers,education minister,beating,Unemployed B.Ed,Punjab Police,Sangrur
पंजाब :
facebook twitter