+

इयोन मोर्गन बोले- विश्व कप फाइनल के बीच सेकेंड भर के लिये लगा था कि अब हार गये

इयोन मोर्गन बोले-  विश्व कप फाइनल के बीच सेकेंड भर के लिये लगा था कि अब हार गये
इंग्लैंड की वनडे विश्व कप में खिताबी जीत के एक साल पूरा होने पर कप्तान इयोन मोर्गन ने न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गये फाइनल के उस क्षण को याद किया जब उन्हें लगा था कि अब उनकी टीम जीत नहीं सकती। इंग्लैंड ने 12 महीने पहले आज के ही दिन न्यूजीलैंड को बाउंड्री की गिनती के आधार पर हराकर 50 ओवरों का विश्व कप जीता था। दोनों टीमों के बीच मैच टाई रहा था और इसके बाद सुपर ओवर में स्कोर बराबर रहा जिसके बाद बाउंड्री की गिनती के आधार पर इंग्लैंड को विजेता घोषित किया गया। यह निश्चित तौर पर विश्व कप इतिहास के सबसे रोमांचक फाइनल में से एक था।

मोर्गन ने कहा, ‘‘केवल एक बार कुछ सेकेंड के लिये ऐसा समय आया जब मुझे अपनी जीत को लेकर संदेह हुआ। जिम्मी नीशाम तब बेन (स्टोक्स) को गेंदबाजी कर रहा था। उसने धीमी गेंद की। बेन ने उसे लांग आन पर खेला और मुझे याद है कि गेंद हवा में लहरा रही थी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘गेंद सीधे जाने के बाद ऊपर चली गयी और एक क्षण के लिये मुझे लगा कि बेन आउट हुआ तो हम गये। हमें अब भी एक ओवर में 15 रन चाहिए। तब मुझे सेकेंड भर के लिये लगा कि अब हम जीत नहीं सकते।’’

न्यूजीलैंड ने फाइनल में आठ विकेट पर 241 रन का स्कोर बनाया और इसके बाद इंग्लैंड को भी इसी स्कोर पर आउट कर दिया। इससे मैच सुपर ओवर तक खिंच गया। सुपर ओवर में दोनों टीमों ने समान रन बनाये। लेकिन इंग्लैंड ने मैच में 26 बाउंड्री लगायी थी और उसे न्यूजीलैंड (17 बाउंड्री) पर विजेता घोषित किया गया। वनडे क्रिकेट में 236 मैचों में 7368 रन बनाने वाले मोर्गन ने कहा कि विश्व कप फाइनल असल में क्रिकेट से बड़ा था।

कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौरान तीन बार फाइनल मैच देख चुके मोर्गन ने कहा, ‘‘फाइनल वास्तव में क्रिकेट से बड़ा था। ’’ मोर्गन की निगाह अब ऑस्ट्रेलिया और फिर भारत में होने वाले टी20 विश्व कप पर टिकी हैं और वह चाहते हैं कि उनकी टीम एक साथ दो प्रारूपों में विश्व कप विजेता बनने वाली पहली टीम बने। उन्होंने कहा, ‘‘अभी तक ऐसी कोई टीम नहीं हुई है जिसने टी20 और 50 ओवरों के विश्व कप एक साथ अपने पास रखे हों। इसलिए यह बहुत अच्छी चुनौती होगी।’’

मोर्गन ने कहा, ‘‘अगले दो विश्व कप में से एक में जीत दर्ज करना अविश्वसनीय होगा। दोनों विश्व कप जीतना 50 ओवरों के विश्व कप जीतने से बड़ी उपलब्धि होगी, क्योंकि ये दोनों विदेशी सरजमीं पर खेले जाएंगे तथा ऑस्ट्रेलिया में ऑस्ट्रेलिया और भारत में भारत खिताब का दावेदार होगा।’’ न्यूजीलैंड के उप कप्तान टॉम लैथम ने हालांकि कहा कि 50 ओवरों के विश्व कप फाइनल की हार को स्वीकार कर पाना मुश्किल है।

लैथम से पूछा गया कि क्या वह इस हार से कभी उबर पाएंगे, उन्होंने से कहा, ‘‘मुझे ऐसा नहीं लगता। इसको लेकर काफी चर्चा हुई। यह ऐसा मैच है जिसके बारे में आने वाले वर्षों में भी बात होती रहेगी। इस मैच का हिस्सा बनना शानदार है। रोमांच से भरे माहौल में कई उतार चढ़ाव आये लेकिन इसके परिणाम को पचा पाना मुश्किल है।’’ न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज मैट हेनरी ने कहा कि अपने सर्वश्रेष्ठ प्रयास के बावजूद मैच गंवाना उन्हें अब भी अखरता है। 


facebook twitter