हवस का शिकार बना परिवार : चारों मृतकों का हुआ अंतिम संस्कार, दोषी का पुलिस तफ्तीश के लिए 4 दिन का रिमांड

लुधियाना ,अमृतसर : पंजाब के जिला अमृतसर स्थित अजनाला तहसील के अंतर्गत गांव तोड़ा खुर्द में एक परिवार के 4 सदस्यों की हुई हत्या के मामले में पुलिस द्वारा कथित मुख्य दोषी परिवार के प्रमुख राजवंत सिंह को गिरफ्तार करने के बाद आज 2 अन्य दोषियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है जबकि मृतकों का भारी पुलिसिया सुरक्षा घेरे में तोड़ा खुर्द में अंतिम संस्कार मृतकों के वारिसों और परिवारिक सदस्यों की मोजूदगी में किया गया है। मृतकों में हत्यारे की बीवी दविंद्रपाल कौर (52 वर्ष ) , पुत्र लवरूप सिंह  ( 21 वर्ष )  और एडवोकेट ओमकार सिंह  (24 वर्ष)  समेत बेटी सरबजीत कौर  (29 वर्ष) शामिल है। इस दौरान आसपास के दर्जनों गांवों के लोग शामिल थे।

 उधर मुख्य आरोपी राजवंत सिंह को आज स्थानीय अमृतसर न्यायिक मजिस्ट्रेट श्री अर्जुन सिंह की अदालत में 4 हत्याओं के आरोप में पेश किया गया] जहां जडूशियल मजिस्ट्रेट ने हत्यारे से पूछताछ के लिए पुलिस को 4 दिन का रिमांड देने का हुकम सुनाया है। इसी संबंध में जानकारी देते हुए पुलिस अधिकारी ने बताया कि हत्यारे को 26 जून के दिन पुन: कोर्ट में पेश किया जाएंगा। इसी के साथ एक महिला का नाम भी सामने आया है] जिसे गिरफतार करने के लिए पुलिस द्वारा छापेमारी जारी है।

स्मरण रहे कि राजवंत सिंह ने अपनी बेटी और 2 बेटों समेत बीवी का दूसरी औरत के चक्कर में कत्ल करके लाशों को नहर के तेज बहाव में फेंक दिया था, शवों को उसने बोरियों में ईंटों के साथ डालकर नहर में फेंका। जिन्हें बीएसएफ के गोताखोरों की सहायता से पुलिस ने बरामद किया है। घटना क्षेत्र के गांव तेड़ा खुर्द की है। इस घटना से क्षेत्र में सनसनी फैल गई और लोग सदमे में हैं।  

जानकारी के मुताबिक परिवार के चारों लोगों के कई दिनों से गायब रहने के बाद लोगों को शक हुआ तो पुलिस को शिकायत दी गई। इसके बाद मामले का खुलासा हुआ। नहर से पहले उसकी पत्नी दविंदरपाल कौर का शव बरामद हुआ था। उसके बाद बेटे वकील ओंकार सिंह, दूसरे बेटे लवरूप सिंह और बहन शरणदीप कौर के शव भी निकाले गए हैं। तीनों की पहले हत्या की गई और फिर शवों को ईंटों के साथ बोरी में डालकर नहर में फेंका गया।

पुलिस के अनुसार, इन चारों की हत्या परिवार के मुखी व दविंदरपाल कौर के पति हरवंत सिंह ने ही की। अवैध संबंधों में रोड़ा बनने के कारण उसने अपने परिवार को ठिकाने लगा दिया। चार दिन परिवार के लापता रहने के बाद लोगों को शक हुआ तो इस वारदात का खुलासा हुआ। इस वारदात में उसके एक साथी ने भी साथ दिया। हरवंत सिंह की प्रेमिका का भी पता लगाया जा रहा है। पुलिस ने घर से एक कार बरामद की है] जिस पर खून के निशान हैं।

- सुनीलराय कामरेड 
Tags : ,victims,police investigation