कश्मीर मुद्दे को लेकर फारूक अब्दुल्ला का बयान, कहा-बातचीत से सुलझाया जाना चाहिए विवाद

नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने गुरुवार को कहा कि कश्मीर भारत और पाकिस्तान के बीच एक ‘‘विवाद’’ है, जिसे बातचीत के जरिये सुलझाये जाने की आवश्यकता है। श्रीनगर से सांसद अब्दुल्ला ने कहा कि सैन्य ताकत से कुछ हासिल नहीं होगा। उन्होंने कहा, ‘‘कश्मीर दोनों देशों (भारत और पाकिस्तान) के बीच एक विवाद है। 

यह मुद्दा अब भी संयुक्त राष्ट्र में है। संयुक्त राष्ट्र के पर्यवेक्षक अब भी यहां और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में मौजूद हैं। इस मुद्दे को सुलझाया जाना चाहिए और यह तभी सुलझेगा जब दोनों देश एक दूसरे से बातचीत करेंगे तथा भारत यहां कश्मीर के लोगों से और पाकिस्तान आजाद कश्मीर के लोगों से बात करेगा।’’ 

J&K : 5486 श्रद्धालुओं का जत्था अमरनाथ के लिए हुआ रवाना


अब्दुल्ला ने अपनी मां बेगम अकबर जहां की 19वीं बरसी पर हजरतबल में आयोजित एक कार्यक्रम में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। अब्दुल्ला ने कहा कि कश्मीर मुद्दे को सुलझाने के लिये बातचीत का कोई विकल्प नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘सैन्य ताकत या सेना अथवा एनआईए समेत बल प्रयोग से कुछ हासिल नहीं होगा।’’ 
Download our app