+

चेन्नई : कुछ पैसों के लिए महिला मरीज की गला दबाकर हत्या, 15 दिन बाद मिला शव

कुछ पैसों के लिए कॉन्ट्रैक्ट वर्कर राधीदेवी ने सुमिथा की गला दबाकर हत्या की थी। राधीदेवी पिछले 3 साल से अस्पताल में काम कर रही थी।
चेन्नई : कुछ पैसों के लिए महिला मरीज की गला दबाकर हत्या, 15 दिन बाद मिला शव
चेन्नई से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां के राजीव गांधी राजकीय अस्पताल से गायब महिला मरीज का शव अस्पताल के ही 8वें फ्लोर से 15 दिन बाद बरामद हुआ। 31 मई को अस्पताल से महिला के गायब होने की शिकायत दर्ज कराई गई। इस मामले में अस्पताल में ही काम करने वाले कॉन्ट्रैक्ट वर्कर को गिरफ्तार किया है। 
पुलिस के अनुसार, कुछ पैसों के लिए कॉन्ट्रैक्ट वर्कर राधीदेवी ने सुमिथा की गला दबाकर हत्या की थी। राधीदेवी पिछले 3 साल से अस्पताल में काम कर रही थी। दरअसल, 22 मई को सांस लेने में तकलीफ के चलते 41 वर्षीय सुमिथा को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। राधीदेवी को उस समय पैसों की जरूरत थी और उसको पता था कि सुमिथा के पास पैसे है। इसके सदाथ ही अस्पताल में सुमिथा के साथ कोई मौजूद नहीं था। 
इसका फायदा उठाकर राधीदेवी ने 22 मई की रात को करीब साढ़े बारह बजे सुमिथा से कहा कि उसे स्कैन के लिए ले जाना है। सुमिथा को राधीदेवी व्हील चेयर पर सर्विस लिफ्ट में ले गई और वहां उससे फोन और पैसे छीन लिए। अस्पताल के आठवें फ्लोर पर ले जाकर राधीदेवी ने सुमिथा की रस्सी से गला दबाकर हत्या कर दी।
जानकारी के मुताबिक, मरीज की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में भी हत्या की पुष्टि हो गई है और आरोपी महिला कर्मी ने भी अपना गुनाह कबूल कर लिया है। आरोपी ने बताया कि उसने पैसों और मोबाइल फोन के लिए पीड़िता की हत्या कर दी। पुलिस को पूछताछ में पता लगा कि राधीदेवी एक विधवा हैं, जो अपने 22 साल के बेटे और एक बेटी के साथ रहती हैं। 

facebook twitter instagram