फिल्म 'शूटर' पर हरियाणा में भी लगा बैन, आपराधिक गतिविधियों को प्रोमोट करने के चलते एफआईआर दर्ज

गैंगस्टर सुखा काहलवां की जिंदगी पर आधारित फिल्म 'शूटर' पर जारी विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब फिल्म के निर्माता और प्रमोटर पर भी मामला दर्ज कर लिया गया है। 


पंजाब सरकार द्वारा फिल्म 'शूटर' पर रोक लगाए जाने के लगभग दो हफ्ते बाद अब हरियाणा ने भी इसके दिखाए जाने पर रोक लगा दी है। फिल्म रिलीज करने पर 10 फरवरी को लगाए गए प्रतिबंध को गैर कानूनी बताते हुए फिल्म निर्माता केवल सिंह ने हाई कोर्ट में याचिका दायर की है। 


अधिकारियों ने शनिवार को इस बात की जानकारी दी है कि हरियाणा सरकार के आदेशानुसार, राज्य में फिल्म की प्रदर्शनी पर निलंबन दो महीने तक जारी रहेगा। 


पंजाब पुलिस द्वारा कथित तौर पर हिंसा, जघन्य अपराध, ड्रग्स की जबरन वसूली, धमकी और आपराधिक गतिविधियों को कथित रूप से प्रमोट करने के चलते निर्माता व प्रोमोटर के. वी. सिंह ढिल्लों सहित कई अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। 


एफआईआर के मुताबिक, फिल्म से युवाओं को हथियार उठाने के लिए उकसाए जाने और शांति व सद्भावना के माहौल के बिगड़ने की संभावना है। पंजाब के मुख्यमंत्री द्वारा पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिनकर गुप्ता को ढिल्लों के खिलाफ इस मामले में संभावित कार्रवाई किए जाने की बात कही जाने के बाद यह प्राथमिकी दर्ज की गई। 


डीजीपी को प्रोमोटर, निर्देशकों व फिल्म के कलाकारों की भूमिका पर जांच करने के भी आदेश दिए गए हैं। इससे पहले, पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने चंडीगढ़ और हरियाणा को फिल्म पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लेने के लिए कहा था। 

Tags : आदिवासियों,Adivasis,Pathargarh agitation,Pathholanga,Central mining,Minister of State for Steel ,shooter,Haryana,FIR,Gangster Sukha,promoter,producer,Kahlwan