World Cup 2019: कोच लैंगर ने इंग्लैंड की सपाट पिचों पर गेंदबाज़ों को दी ये नसीहत

आर्ईसीसी विश्व कप 2019 का आगाज इंग्लैंड और वेल्स में 30 मई से शुरू होगा। इसी बीच ऑस्ट्रेलिया के कोच जस्टिन लैंगर ने इंग्लैंड की सपाट पिचों और तेज आउटफील्ड पर बात करते हुए कहा है कि गेंदबाजों को अगर वहां अच्छा प्रदर्शन करना है तो उन्हें चमड़ी मोटी करनी होगी। विश्व कप से पहले इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच में वनडे सीरीज हुई थी और हर मैच में 350 का स्कोर बना था।

तेज गेंदबाजों को जस्टिन लैंगर ने दी ये नसीहत

जस्टिन लैंगर ने कहा है कि विश्व कप में बड़ा स्कोर बनने से रोकने में गेंदबाजों को कड़ी मेहनत करनी होगी। जस्टिन लैंगर ने कहा, इन दिनों क्रिकेट में सफेद गेंद से बल्लेबाजी को लेकर कई बातें की जा रही हैं। टी20 और वनडे क्रिकेट में हमारी गेंदबाजी जबरदस्त है लेकिन इंटरनेशनल क्रिकेट में आप सभी को चमड़ी मोटी रखनी होगी, खासकर सपाट पिचों और तेज आउटफील्ड पर। ऑस्ट्रेलिया की विश्व कप टीम में जोश हेजलवुड को नहीं शामिल किया गया है। कोच लैंगर ने इसका बचाव करतेे हुए कहा कि वनडे क्रिकेट जोश हेजलवुड ने ज्यादा नहीं खेले हैं इसी वजह से उन्हें टीम में नहीं शामिल किया है।

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम ने पांच बार विश्व कप का खिताब अपने नाम किया हुआ है। आगामी विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया तीन अभ्यास मैच खेलेगी। बुधवार को ऑस्ट्रेलिया पहला मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलेगी। दूसरा अभ्यास मैच इंग्लैंड के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया खेलेगा तो वहीं तीसरा आखिरी अभ्यास मैच श्रीलंका के खिलाफ खेलेगा।

ऑस्ट्रेलिया विश्व कप में अपना पहला मैच अफगानिस्तान के खिलाफ खेलेगा। ऑस्ट्रेलिया के लिए विश्व कप से पहले तीनों अभ्यास मैचों पर कोच लैंगर ने कहा कि वह तीनों बहुत अहम हैं। कोच जस्टिन लैंगर ने कहा, पाकिस्तान के खिलाफ हमने सत्र के आखिर में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है। विश्व कप में एक बार फिर से हमें उसी लय को हासिल करना है। इसलिए यह तीनों अभ्यास मैच हमारे लिए बहुत अहम होंगे।

लैंगर ने विश्व कप से हेजलवुड को बाहर रखने पर किया बचाव

आर्ईसीसी विश्व कप 2019 के लिए ऑस्ट्रेलिया की विश्व कप टीम में तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड को शामिल नहीं किया गया है। इसी का बचाव करते हुए लैंगर ने कहा, हाल के समय में उन्होंने ज्यादा वनडे क्रिकेट नहीं खेला है।

जस्टिन लैंगर ने आगे कहा, वह लगातार दूसरी बार पीठ की चोट से उबरकर आए हैं और उन्होंने अभी नेट में दौडऩा ही शुरू किया है। मुझे लगता है कि उन्होंने पिछले 18 महीनों के दौरान छह सीमित ओवरों के क्रिकेट खेले हैं, जिसमें टी20 और वनडे है। हमें पता है कि वह एक शानदार गेंदबाज हैं, लेकिन इस समय उनके लिए समय बुरा है।

पाकिस्तान के इस क्रिकेटर पर World Cup से पहले टूटा दुखों का पहाड़, कैंसर से हुई बेटी की मौत

Download our app