मौज-मस्ती के लिए चोरी व झपटमारी, गैंग का पर्दाफाश

पूर्वी दिल्ली : कृष्णा नगर पुलिस के हत्थे पांच ऐसे शातिर चोर व झपटमार चढ़े हैं, जो महज मौज-मस्ती करने के लिए वारदात को अंजाम देते थे। चौंकाने वाली बात ये है कि इनमें तीन 15 से 17 वर्षीय नाबालिग हैं। बालिग आरोपियों की पहचान तारीक (19) और शोएब (18) के तौर पर हुई है। इनके पास से चोरी से पुलिस ने आठ मोबाइल फोन, तीन स्कूटी और दो बाइक बरामद किए हैं। आरोपियों का कोई पुराना रिकॉर्ड नहीं है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है। 

डीसीपी शाहदरा डिस्ट्रिक्ट मेघना यादव के मुताबिक, झपटमारी की वारदात के समय और तरीके पर मंथन करने के बाद एसीपी गांधी नगर सिद्धार्थ जैन के सुपरविजन में एसएचओ कृष्णा नगर राजकुमार साहा, हेड कांस्टेबल नवीन, सोनू, कांस्टेबल नितिन, इंदरपाल व पंकज की टीम का गठन किया गया था। टीम लाल क्वाॅर्टर मार्केट मेन रोड पर पिकेट लगाकर वाहनों की जांच कर रही थी। उसी दौरान पुलिस ने बगैर नंबर प्लेट और हेल्मेट के स्कूटी सवार दो युवकों को आते हुए देखकर रोका। 

छानबीन के दौरान आरोपी स्कूटी के कागजात नहीं दिखा पाए। जांच के दौरान स्कूटी जगतपुरी इलाके से चोरी मिली। तलाशी लेने पर आरोपियों के पास से चोरी के दो मोबाइल फोन भी बरामद हुए। पूछताछ के दौरान आरोपी तारीक और शोएब ने बताया कि वह गैंग लीडर है। गैंग अन्य तीन नाबालिग लड़के महाराणा प्रताप पार्क, कांति नगर इलाके में घूमने गए हैं। पुलिस ने छापेमारी कर तीनों लड़कों को भी दबोच लिया। आरोपियों के पास से चोरी की एक स्कूटी व छह मोबाइल फोन बरामद हुए। बाद में आरोपियों से पूछताछ के बाद दो बाइक व एक स्कूटी और बरामद कर ली गई। 
Download our app