+

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अबू धाबी के राजकुमार के साथ भारत-यूएई संबंधों को लेकर की चर्चा

कोविड महामारी के बाद भारत और यूएई के बीच रणनीतिक सहयोग और संबंधों के बेहतर होने पर चर्चा की।
विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अबू धाबी के राजकुमार के साथ भारत-यूएई संबंधों को लेकर की चर्चा
विदेश मंत्री एस जयशंकर ने खाड़ी देश की यात्रा के दौरान अबू धाबी के शाहजादे शेख मोहम्मद बिन जायेद अल नाहयान के साथ कोविड महामारी के बाद भारत और यूएई के बीच रणनीतिक सहयोग और संबंधों के बेहतर होने पर चर्चा की। दोनों नेताओं ने महत्वपूर्ण क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर भी बातचीत की। जयशंकर बहरीन, संयुक्त अरब अमीरात और सेशेल्स के छह दिवसीय दौरे के दूसरे पड़ाव में बुधवार रात को यहां पहुंचे। कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के बीच जयशंकर की बहरीन की पहली यात्रा काफी महत्वपूर्ण समझी जा रही है।
जयशंकर ने बुधवार देर रात ट्वीट किया,“अबू धाबी आने पर मेरा स्वागत करने के लिए मोहम्मद बिन जायेद का धन्यवाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी शुभकामनाएं दी हैं। यूएई के भारतीय समुदाय की तरफ यूएई का देखभाल भरा रवैया सराहना योग्य है।” उन्होंने कहा, “कोविड के बाद के दौर में हमारे रणनीतिक सहयोग को आगे बढ़ाने पर चर्चा की। साथ ही महत्वपूर्ण क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर बातचीत हुई।’’ कोरोना वायरस के कारण यूएई में अब तक कुल 1,63,000 लोग संक्रमित हो चुके हैं और 563 लोगों की मौत हो चुकी हैं। 
विदेश मंत्री के दौरे से पहले ही विदेश मंत्रालय ने कहा था कि यूएई में 30 लाख से अधिक भारतीय रहते हैं और रोजगार करते हैं। अबू धाबी में भारतीय दूतावास की वेबसाइट के अनुसार, लगभग 30.4 लाख का भारतीय प्रवासियों का समुदाय संयुक्त अरब अमीरात में सबसे बड़ा प्रवासी समुदाय है और देश की कुल आबादी का 30 प्रतिशत है। अपने दौरे के अंतिम चरण में विदेश मंत्री 27 और 28 नवंबर को सेशेल्स की यात्रा करेंगे। सेशेल्स में जयशंकर वहां के नेतृत्व से वार्ता करेंगे। 

facebook twitter instagram