अनेक राज्यों में कार्यरत सहकारी सोसायटी पर शिकंजा कसने के लिए विशेष इकाई बनायें : CM गहलोत

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने धोखाधड़ी कर लोगों का पैसा हड़पने वाली अनेक राज्यों (मल्टी स्टेट) में कार्यरत सहकारी सोसायटी पर शिकंजा कसने के लिए एक विशेष इकाई (यूनिट) गठित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने राज्य में कानून-व्यवस्था की प्रभावी निगरानी एवं अपराधों की रोकथाम के लिए लगाए गए क्षेत्र प्रभारी अतिरिक्त महानिदेशकों को हर दो माह में कम से कम दो दिन संबंधित क्षेत्र का दौरा करने और वहां रात्रि विश्राम सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक तीन माह में इसकी समीक्षा होगी। गहलोत शुक्रवार को क्षेत्र प्रभारी अतिरिक्त पुलिस महानिदेशकों की समीक्षा बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि राजस्थान पुलिस अपराध नियंत्रण के लिए आधुनिक तकनीक एवं संसाधनों के बेहतर उपयोग के लिए खुद को तैयार करें तथा सरकार पुलिस के सुदृढ़ीकरण एवं उन्हें संसाधन मुहैया कराने में कोई कमी नहीं रखेगी। 

उन्होंने कहा कि शराब, भूमि, खनन, ड्रग सहित विभिन्न प्रकार के माफिया के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें, जिससे आमजन में पुलिस के प्रति सकारात्मक संदेश जाए। मुख्यमंत्री ने महिलाओं के लिए राज्य सरकार की ओर से संचालित सेल्फ डिफेंस प्रोग्राम को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि हर जिले की पुलिस लाइन अथवा उचित स्थान पर महिला पुलिसकर्मियों द्वारा अधिक से अधिक बालिकाओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिया जाए। 

उन्होंने मैरिज गार्डनों में रात्रि दस बजे बाद डीजे के उपयोग पर प्रतिबंध के सुप्रीम कोर्ट के आदेश की कडाई से पालना सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए। पुलिस महानिदेशक भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि माफियाओं के खिलाफ 337 मुकदमे दर्ज कर करीब 683 गिरफ्तारियां की जा चुकी हैं। 
Tags : भारतीय जनता पार्टी,Bharatiya Janata Party,गुजरात,Gujarat,उना कांड,विधायक प्रदीप परमार,Una Kand,MLA Pradeep Parmar ,Ashok Gehlot,states,CM Gehlot,Rajasthan